शिवराज सिंह चौहान समेत बीजेपी और कांग्रेस के कई नेताओं ने कालूखेड़ा के निधन पर शोक जताया है

0
अशोकनगर जिले के मुंगावली विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह कालूखेड़ा का सोमवार को गुड़गांव में निधन हो गया। वे 72 साल के थे। उनका बीते 21 दिनों से मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। बुधवार सुबह 11 बजे उनका अंतिम संस्कार जावरा स्थित कालूखेड़ा गांव में किया जाएगा। शिवराज सिंह चौहान समेत बीजेपी और कांग्रेस के कई नेताओं ने कालूखेड़ा के निधन पर शोक जताया है।
– छात्र राजनीति से अपने राजनीतिक कॅरियर की शुरुआत करने वाले कालूखेड़ा 1972 में पहली बार विधायक बने थे।
-1998 की 11वीं विधानसभा के सदस्य बनने के बाद वे प्रदेश सरकार में कृषि एवं सहकारिता मंत्री भी रहे। 2013 में वे छठी बार विधायक बने।
– अभी वे विधानसभा की लोक लेखा समिति के चेयरपर्सन थे। 1984 में कालूखेड़ा सांसद भी रहे।
 एयरलिफ्ट कर दिल्ली ले जाया गया था
– प्रदेश कांग्रेस स्पोक्सपर्सन पंकज चतुर्वेदी ने बताया कि कुछ समय पहले दिल्ली में ही उन्हें स्टेंट लगाया गया था। इसके बाद वे लौट आए थे।
– पिछले दिनों भोपाल में उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। उन्हें हमीदिया अस्पताल ले जाया गया। बाद में बेहतर इलाज के लिए एयरलिफ्ट कर दिल्ली ले जाया गया, लेकिन तब से वे होश में नहीं आए थे।
– कालूखेड़ा का जन्म गुजरात के दाहोद जिले के लीमड़ी में 5 मार्च 1945 को हुआ था। वे मध्यप्रदेश के रतलाम जिले की पिपलोदा तहसील के ग्राम कालूखेड़ा के मूल निवासी थे।
 कालूखेड़ा के निधन पर ये बोले राजनेता
– शिवराजसिंह चौहान ने कांग्रेस के कालूखेड़ा के निधन पर शोक जताते हुए कहा, “विधानसभा में विपक्ष की मुखर आवाज रहे साथी कालूखेड़ा का निधन प्रदेश के लिए अपूरणीय क्षति है।”
– विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. सीतासरन शर्मा ने महेंद्र सिंह कालूखेड़ा के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा, “उनके विधानसभा में दिए गए योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। अपने का का उन्होंने पूरी गंभीरता और निष्पक्षता के साथ निर्वहन किया।”
– विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने कहा, “हमने एक सच्चा साथी खो दिया है।”
राजनीति को सेवा का माध्यम बनाया : कमलनाथ
– कांग्रेस के सांसद कमलनाथ ने कहा, “एक जीवट एवं संघर्षशील व्यक्तित्व के धनी कालूखेड़ा ने सदैव राजनीति को सेवा का माध्यम बनाकर जनहितैषी कार्य किए।”
कांग्रेस ने निष्ठावान सिपाही खो दिया: अजय सिंह
– नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा, “उन्होंने एक अच्छा साथी, प्रदेश ने बेहतर जनप्रतिनिधि और कांग्रेस ने निष्ठावान सिपाही को खो दिया है, जिसकी क्षतिपूर्ति नहीं हो सकती।”
अपूरणीय क्षति: अरुण यादव
– प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा, “कालूखेड़ा अपनी विनम्र, सादगी व समर्पित निष्ठा की पहचान के रूप में जाने जाते थे। उनका निधन पार्टी की अपूरणीय क्षति है।”
निष्ठा से किया काम: सिंह
– भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने अपने शोक संदेश में कहा, “कालूखेड़ा ने अपने दल के लिए पूरी निष्ठा और ईमानदारी से काम किया।”
Share.

About Author

Leave A Reply