आरबीआई ने शुक्रवार को 200 रुपए का नोट जारी किया

0
आरबीआई ने शुक्रवार को 200 रुपए का नोट जारी किया। बैंक ने इसे लेकर बुधवार को नोटिफिकेशन जारी किया था। चमकीले पीले कलर का यह नोट पहली बार जारी किया किया गया। नोट लेने के लिए दिल्ली समेत कई शहरों में लाइन में लगे रहे। अब तक 9 नोट 1, 2, 5, 10, 20, 50, 100, 500 और 2000 चलन में हैं। RBI द्वारा जारी ये 10वां नोट है। बता दें कि नोटबंदी के वक्त सरकार ने 1000 का नोट बंद कर दिया था। हाल ही में आरबीआई ने 50 रुपए का नया नोट जारी किया था।
– नोट को सामने देखने पर उस पर न्यूमेरिक 200 लिखा है।
– न्यूमेरिक के अलावा देवनागरी में भी 200 लिखा है।
– नोट के ठीक बीच में महात्मा गांधी का पोट्रेट है।
– नोट पर बहुत छोटे लेटर्स में RBI, भारत, INDIA और 200 लिखा है।
– सिक्युरिटी थ्रेड पर भारत और आरबीआई लिखा है।
– नोट को आढ़ा-तिरछा करने पर सुरक्षा धागे का रंग हरा और नीला हो जाएगा।
– नोट पर महात्मा गांधी की फोटो के दाईं तरफ गारंटी क्लॉज, गवर्नर के साइन, प्रॉमिस क्लॉज और रिजर्व बैंक का सिम्बल है।
– अशोक स्तंभ नोट के दाईं तरफ है।
नोट के पिछले हिस्से में:
– नोट को पीछे देखने पर बाईं तरफ प्रिंटिंग ईयर है।
– बाईं तरफ ही स्वच्छ भारत का लोगो और स्लोगन है।
– लोगो और स्लोगन के तुरंत बाद अलग-अलग लैंग्वेंज में 200 रुपए लिखा है।
– इसके बाद सांची के स्तूप की फोटो है। साथ में देवनागरी में 200 लिखा है।
– नोट का साइज 60mmX146mm है।
एक साल में 2 नए नोट पहली बार
– बता दें कि नोटबंदी के बाद मार्केट में अब 2 नए नोट आ गए। 2000 का नोट पहले ही आ चुका है। 200 का नया नोट शुक्रवार को बाजार में आ गया।
तेजी से पॉपुलर हो सकता है ये नोट
– आरबीआई के सूत्रों के मुताबिक, 100 और 500 रुपए की कीमत वाले नोटों के बीच में कोई दूसरा नोट मार्केट में चलन में नहीं है। ऐसे में माना जा रहा है कि मार्केट में आने के बाद ये नोट तेजी से पॉपुलर होंगे।
– 2000 रुपए के नोटों के जरिए ब्‍लैक मार्केटिंग होने की खबरें आने के बाद आरबीआई लगातार बड़े नोटों की हिस्‍सेदारी मार्केट से कम करना चाह रहा है।
200 रुपए के नोट के 2 फायदे
– आरबीआई के सूत्रों के मुताबिक, 200 रुपए के नोट के दो फायदे होंगे। पहला: कैश की किल्‍लत कम होगी। दूसरा: मार्केट में कम कीमत के नोटों की हिस्‍सेदारी भी बढ़ेगी। इसके अलावा ब्लैक मनी को कम किया जा सकेगा।
कब हुई थी नोटबंदी?
– सरकार ने 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया था। नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर अपनी स्पीच में कहा था कि नोटबंदी के बाद बैंकों में 3 लाख करोड़ रुपए एक्स्ट्रा आए हैं। इनमें से पौने दो लाख करोड़ रुपए शक के घेरे में हैं। देशभर में 18 लाख लोग ऐसे हैं, जिनकी इनकम उजागर सोर्स से ज्यादा है। इन सबकी जांच की जा रही है।
Share.

About Author

Leave A Reply