About us

एक तरफ थी मासूम की लाश दूसरी तरफ फांसी के फंदे पर लटक रही थी मां …  

0
मायके आई हुई एक महिला ने पहले अपने दो साल के मासूम बच्चे का गला घोटकर हत्या कर दी और फिर खुद भी फांसी के फंदे पर लटक गई। दिल दहला देने वाली यह घटना देवास के करनावद की है।
– करनावद निवासी गणेश पाटीदार की पुत्री ज्योतिबाला (24) की शादी पास के गांव में बालाराम पाटीदार के साथ हुई थी। उनका दो साल का बेटा पवन था।
– अप्रैल में ज्योतिबाला के पिता के यहां भागवत और रामायण कथा का बड़ा आयोजन हुआ था। तब ज्योतिबाला इस धार्मिक कार्यक्रम के लिए मायके आई थी।
– उसके बाद से वो अपने बेटे के साथ मायके में ही रह रही थी। बुधवार को उसके पिता और परिवार के अन्य लोग खेत पर गए थे, ज्योतिबाला अपने बेटे के साथ घर पर ही रुक गई।
– शाम को जब परिवार के लोग वापस लौटे तो घर का दरवाजा अंदर से बंद था, काफी देर खटखटाने के बाद भी जब ज्योतिबाला ने दरवाजा नहीं खोला तो सब लोगों ने मिलकर दरवाजा तोड़ दिया।
– दरवाजा तोड़कर जैसे ही परिवार के लोग अंदर के कमरे में पहुंचे उनका कलेजा मुंह को आ गया। अंदर के कमरे में ज्योतिबाला का मासूम बेटा पलंग पर निढाल पड़ा था जबकि दूसरे कमरे में ज्योतिबाला की लाश झूले की रस्सी से बने फंदे पर लटक रही थी।
– सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा बनाकर दोनों की लाश को पोस्टमार्टम के लिए बागली भेजा गया।
पारिवारिक विवाद से परेशान थी
– एसडीओपी संजीव पाठक ने बताया कि मौके पर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। शार्ट पीएम रिपोर्ट से ये सामने आया है कि मासूम पवन की मौत गला घोटने से हुई है। अतः संभवतः ज्योतिबाला ने पहले उसका गला घोटकर उसकी हत्या की और इसके बाद दूसरे कमरे में जाकर खुद को फांसी लगा ली।
-प्रारंभिक पूछताछ में ये पता चला है कि ज्योतिबाला के ससुराल में कुछ आर्थिक परेशानी चल रही थी। उसका पति अपनी पुश्तैनी जमीन बेच चुका था, इसलिए वो मायके में रह रही थी। सम्भवतः आर्थिक परेशानी और पति से अलग रहने के कारण ही उसने यह कदम उठाया।
– फ़िलहाल मर्ग कायम कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।
Share.

About Author

Leave A Reply