नर्मदा ने हमें सब कुछ दिया, हम भी नर्मदा को प्रदूषणमुक्त बनाने का संकल्प लें-मुख्यमंत्री श्री चौहान

0

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सीहोर के जहाजपुरा में ग्रामीणों से किया आव्हान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि माँ नर्मदा ने हमें सबकुछ दिया है। माँ नर्मदा की कृपा से प्रदेश के खेतों में हरियाली छा रही है तथा प्रदेश का कृषि उत्पादन तेजी से बढ़ा है। इसके साथ ही मध्यप्रदेश के आधे से अधिक क्षेत्र में नर्मदा नदी का पानी पेयजल के रूप में उपलब्ध हो रहा है। अत: हम सबकी जवाबदारी है कि हम नर्मदा नदी को प्रदूषणमुक्त कर उसकी जलधारा को अविरल बनाये रखें। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज सीहोर जिले के बुधनी विकासखण्ड के ग्राम जहाजपुरा में जनसंवाद को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान जनसंवाद के पहले नर्मदा सेवा यात्रा में शामिल हुए। उन्होंने माँ नर्मदा के चित्र पर माल्यार्पण किया। मुख्यमंत्री ने अपनी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह के साथ उपस्थित कन्याओं के पॉव पखारे। कार्यक्रम में स्कूल की छात्राओं ने नर्मदाष्टक पर नृत्य प्रस्तुत किया। मुख्यमंत्री ने बालिकाओं द्वारा आकर्षक नृत्य प्रस्तुति पर 25 हजार रूपये पुरस्कार स्वरूप देने की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यात्रा का उद्देश्य मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी नदी नर्मदा के संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि नर्मदा यात्रा ने अब बड़े जन-आन्दोलन का रूप ले लिया है। श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा यात्रा की चर्चा आज दुनिया के कई देशों में हो रही है। उन्होंने कहा कि नर्मदा किनारे के शहरों और गाँव का सीवेज का गंदा पानी नर्मदा नदी में नहीं मिलने दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि सीवेज के पानी का उपचार कर साफ पानी किसानों को सिंचाई के लिये दिया जायेगा। प्रदेश में अभी तक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट की स्थापना के लिये 18 नगरों का चयन कर लिया गया है। इसके लिये 1500 करोड़ रूपये की राशि का प्रावधान किया गया है।

हरिद्वार से आये संत श्री शिवानंद महाराज ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नर्मदा को प्रदूषणमुक्त बनाने के लिए जो अभियान प्रारंभ किया है वह अत्यन्त सराहनीय है। उन्होंने उपस्थित ग्रामीणों से अभियान को सफल बनाने का आग्रह किया।

साध्वी सुश्री प्रज्ञा भारती ने कहा कि हम माँ नर्मदा की पूजा करते हैं तथा नर्मदाष्टक गाते हैं लेकिन हम लोग ही नर्मदा को प्रदूषित भी कर रहे हैं। अब जरूरत इस बात की है कि हम सभी मिलकर एकजुट हों और माँ नर्मदा को प्रदूषणमुक्त बनाये। उन्होंने ग्रामीणों से नर्मदा तटों के आसपास अधिक से अधिक संख्या में वृक्ष लगाने की बात भी कही। स्वामी विश्वेश्वरानंद महाराज ने भी उपस्थित ग्रामीणों से नर्मदा को प्रदूषित नहीं करने की अपील की।

कार्यक्रम में सीहोर जिले के प्रभारी एवं लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री गुरू प्रसाद शर्मा, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, हरिद्वार से आये श्री मिथला बिहारी महाराज, स्थानीय जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में सेवा यात्री मौजूद थे।

Share.

About Author

Leave A Reply