पेट में पल रहा महामंडलेश्वर का बच्चा,डीएनए टेस्ट कराने को है तैयार..

kashmir
जम्मू-कश्मीर में उपद्रवियों ने कर्फ्यू तोड़कर निकाली रैली
July 14, 2016
nice
70 की स्पीड में ट्रक दौड़ाते हुए लोगों को 2 किमी तक कुचलता चला गया
July 15, 2016

पेट में पल रहा महामंडलेश्वर का बच्चा,डीएनए टेस्ट कराने को है तैयार..

baba
धार्मिक गुरुओं के विवाद आए दिन चर्चाओं में रहते हैं। ताजा मामाला हरिद्वार के अग्नि अखाड़ा के एक महामंडलेश्वर से जुड़ा है। बता दें कि महामंडलेश्वर बाबा रसानंद की मौत के बाद उनकी एक शिष्या ने उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं। उसने कहा कि वह बाबा के बच्चे की मां बनने वाली है।
– बाबा रसानंद की शिष्या तेजेंद्र कौर ने खुद को संत की विधवा बताते हुए अपने पेट में संत का बच्चा होने का दावा किया है। उसने यह भी दावा किया बाबा ने उसके साथ बाकायदा शादी की थी।
– तेजेंद्र के मुताबिक, शादी के बाद बाबा से उसके संबंध बने और वह गर्भवती हो गई। जल्द ही उसकी डिलिवरी होनी वाली है।
– हरिद्वार के प्रेस क्लब में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजेंद्र कौर ने बताया कि वह बच्चे का डीएनए टेस्ट कराने को भी तैयार है।
– बच्चा होने के उसके दावे की जांच के लिए कोई भी डीएनए टेस्ट करवा सकता है।
– बता दें कि महामंडलेश्वर बाबा रसानंद की इसी साल उज्जैन में सिंहस्थ कुंभ के दौरान रहस्यमयी तरीके से मौत हो गई थी।
कौन थे रसानंद बाबा ?
– रसानंद बाबा हरिद्वार के अग्नि अखाड़ा के महामंडलेश्वर थे। वे काफी लग्जरियस लाइफ जीते थे और पजेरो जैसी महंगी गाड़ियों में चलते थे।
– संत होने के बावजूद इस तरह की जीवनशैली पर उनका जवाब होता था, “भक्त ने दी है। खुद की कोई इच्छा नहीं है। न ही किसी से कभी कोई अपेक्षा रखी है।”
– यह भी दिलचस्प है कि बाबा का एक 13 साल का बच्चा भी है जो आश्रम में ही उनके साथ रहता था।
क्या प्रॉपर्टी है विवाद की वजह?
– हरिद्वार के अग्नि अखाड़े की संपत्ति करीब 100 करोड़ से ज्यादा है।
– आश्रम की जानकारी के अनुसार, बाबा का बेटा आधी संपत्ति का वारिस भी है।
– रसानंद के जाने के बाद आश्रम के सबसे बड़े बाबा कैलाशानंद की फिलहाल संपत्ति और आश्रम की देखरेख कर रहे हैं।
 संतों ने आरोपों को किया खारिज
– कैलाशानंद ने महिला के आरोपों को गलत बताया है। महिला और आश्रम के झगड़े में पुलिस पड़ने को तैयार नहीं है इसलिए मामला कोर्ट चला गया।
– वहीं, दूसरी ओर अग्नि अखाड़े के संतों ने महिला के सभी आरोपों को खारिज करते हुए उसे गलत बताया है।
– बाबा के समर्थकों का कहना है कि संपत्ति के लिए महिला बाबा पर इस तरह के आरोप लगा रही है।
कौन है ये शिष्या ?
– खबरों के अनुसार, तेजेंद्र कौर दिल्ली की रहने वाली है।
– आरोप लगानी वाली शिष्या तेजेंद्र कौर रसानंद के साथ पिछले आठ साल से आश्रम में ही रह रही थी।
– जब बाबा की मौत हुई तब भी वह बाबा के साथ थी।
– तेजेंद्र ने बाबा के आश्रम से 100 करोड़ की प्रॉपर्टी में हिस्सा मांगा है, जिसको लेकर यह विवाद सामने आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *