About us

यूपी की बीम‍ार‍ियों को जल्द करूंगा ठीक… सीएम आद‍ित्यनाथ

0
आद‍ित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि जिस तरह से मुस्लिम भाई नमाज अदा करते हैं, उससे सूर्य नमस्कार के आसन मिलते हैं। योगी यहां तीन दिन चलने वाले योग महोत्सव के उद्धाटन कार्यक्रम में बोल रहे थे। इस दौरान बाबा रामदेव भी मौजूद थे। यूपी के सीएम ने ये भी कहा, ”मैं सीएम पद लेने से भागा नहीं। अगर पद नहीं लेता तो लोग कहते कि जिम्मेदारी से भाग रहे हैं। अमित शाहने अचानक सीएम बनने को कहा। उस समय मेरे पास 1 जोड़ी कपड़े थे। उसी के साथ मैं दिल्ली चला गया।”
– योगी ने आगे कहा, ”मैंने यूपी के हर कोने में यात्रा की है। यूपी की सारी बीमारियों को जानता हूं। इसे जल्द ठीक करूंगा। हम बड़े फैसले लेने में नहीं हिचकेंगे। नोटबंदी ईमानदार नेतृत्व की वजह से ही हो पाई।”
– ”जननी और जन्मभूमि स्वर्ग से बढ़कर है। भारत जब तक जननी और जन्मभूमि से जुड़ा रहेगा, विश्वगुरु के रूप में देखा जाएगा। हम 70 साल में ऐसा नहीं कर पाए कि भारत को ऐसा विश्वविद्यालय दें जिनका स्थान दुनिया के टॉप 100 विश्वविद्यालय में हो।”
– ”किसी भी क्षेत्र में हम आगे नहीं आए, क्योंकि सकरात्मक सोच ही नहीं रही। हम आगे बढ़ना नहीं चाहते थे। हमारे सामने आने वाली चुनौतियां बहुत हैं। जीवन में सकारात्मक सोच मोदी जी से सीखी है। सकारात्मक सोच से ही देश आगे बढ़ा है।”
– ”भारत को अराजकता से उबारने काम 2014 से शुरू हुआ। लोकतंत्र में भी नोटबंदी जैसी कार्रवाई हो सकती है। सकारात्मकता का परिणाम भारत की अर्थव्यवस्था में भी देखने को म‍िला है।”
नमाज पढ़ने की मुद्रा से मिलती-जुलती हैं सूर्य नमस्कार की क्रियाएं
– योगी ने आगे कहा, ”सूर्य नमस्कार, प्राणायाम की क्रियाएं कहीं ना कहीं नमाज पढ़ने की मुद्रा से मिलती-जुलती हैं। 2014 से पहले योग को सांप्रदायिक माना जाता था। जिनको भोग में विश्वास है, वो योग में कैसे विश्वास कर सकते हैं।”
– ”आत्म अनुशासन की सबसे बड़ी चीज योग है। योग करने से मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूती मिलती है। योग करने से व्यक्‍ति बुढ़ापे तक स्वस्थ रहता है। हर जाति, धर्म का व्यक्ति योगिक क्रियाओं को कर सकता है।”
– ”योग के अभियान से बहुत बड़ी क्रांति आ सकती है। चेतन मन को जागृत करने का काम योग करता है। योग से कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है। बाबा रामदेव ने योग को घर-घर पहुंचाने का काम किया है। पीएम ने योग को पहचान दिलाने का काम किया है। अब हम सबको तय करना होगा कि सांप्रदायिक कौन है।”
– योगी ने कहा, ”भारत ने बल के आधार पर किसी को प्रभावित नहीं किया है। जननी जन्मभूमि का हमारा संबंध बना रहेगा। ये देश आतंकवाद और नक्सलवाद का शिकार हुआ है। कई तरह की अराजकता भारत में फैली हुई है। सत्ता के लिए पार्टियों ने यहां राज किया है।”
बाबा रामदेव ने क्या कहा?
– इससे पहले बाबा रामदेव ने कहा, ”यूपी की प्रजा योगी, यूपी का राजा भी योगी। योग एक वैज्ञानिक और पंथ निर्पेक्ष सत्य है।”
– रामदेव ने डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा से कहा- योग को शिक्षा व्यवस्था में स्थायी रूप से लागू किया जाए। साथ ही संस्कृत शिक्षा बोर्ड, विश्वविद्यालय का गठन किया जाए।
– इस पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा- 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को लागू करेंगे। हम योग को शिक्षा का अंग बनाएंगे। उन्होंने संस्कृत बोर्ड बनाने पर सीएम से बात करने की भी बात कही।
महोत्सव में नि:शुल्क भाग ले सकेंगे लोग
– बता दें, लखनऊ के गोमती नगर स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 29 से 31 मार्च तक योग महोत्सव चलेगा।
– ‘योग इज मेडिसन’ थीम पर होने वाले इस प्रोग्राम में बाबा रामदेव लोगों को योग के गुर सिखाएंगे।
Share.

About Author

Leave A Reply