About us

गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से मिली कड़ी टक्कर के बाद बीजेपी ने जीत दर्ज की

0

गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से मिली कड़ी टक्कर के बाद बीजेपी ने जीत दर्ज की। अब बीजेपी राज्य में छठवीं बार सरकार बनाएगी। सोमवार को आए नतीजों में 2012 के मुकाबले बीजेपी को 16 सीटों का नुकसान हुआ, उसे 99 सीटें मिलीं। वहीं कांग्रेस की सीटें 61 से बढ़कर 77 हो गईं। अन्य को 6 सीटें मिलीं। बीजेपी का वोट शेयर 49.1% जबकि कांग्रेस का 41.4% रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे विकास की जीत बताया। उधर, राहुल गांधी ने ट्वीट कर हार मान ली। बड़े चेहरों में सीएम विजय रूपाणी और डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने जीत दर्ज की। कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी भी जीते। वहीं, कांग्रेस के बड़े नेता अर्जुन मोढवाडिया और शक्तिसिंह गोहिल हार गए। नतीजों के बाद बीजेपी ने मुख्यमंत्री का नाम फाइनल करने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली और जनरल सेक्रेटरी सरोज पांडे को ऑब्जर्वर बनाया है।

गुजरात विधानसभा चुनाव नतीजे: एक नजर में

# कब हुए चुनाव?

– 182 सीटों के लिए दो फेज (9 और 14 दिसंबर) को चुनाव हुए। कुल 67.75% वोटिंग हुई। यह पिछले चुनाव से 3.55% कम रही।

# किसे कितना फायदा-कितना नुकसान?

– बीजेपी का वोट शेयर करीब 1.25% और कांग्रेस का करीब 2% बढ़ा। सीटों के मामले कांग्रेस फायदे तो बीजेपी नुकसान में रही।

– इस बार बीजेपी को 99 (पिछली बार 115) सीटें मिलीं, वहीं कांग्रेस को 77 (पिछली बार 61) सीटें मिलीं।

मुख्यमंत्री चुनने के लिए ऑब्जर्वर नियुक्त

– नतीजों के बाद सोमवार देर शाम दिल्ली में बीजेपी पार्लियामेंट्री बोर्ड की मीटिंग हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इसमें शामिल हुए।

– इसके बाद केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने बताया कि पार्टी ने गुजरात के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली, जनरल सेक्रेटरी सरोज पांडे और हिमाचल प्रदेश के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, नरेंद्र सिंह तोमर को ऑब्जर्वर बनाया है। चारों नेता दोनों राज्यों में जाएंगे और विधायकों की राय लेकर मुख्यमंत्रियों के नाम फाइनल करेंगे।

# किसने क्या कहा?

जीत विकास का नतीजा: मोदी

– मोदी ने कहा, “गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत गुड गवर्नेंस और विकास का नतीजा है। मैं बीजेपी कार्यकर्ताओं को सैल्यूट करता हूं जिन्होंने अथक मेहनत की। इनकी वजह से ही जीत हासिल हुई।”

– “मैं दोनों राज्यों की जनता को नमन करता हूं कि उन्होंने बीजेपी के लिए प्रेम और भरोसा दिखाया। मैं उनको ये यकीन दिलाना हूं कि इन राज्यों के विकास के लिए हम कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेंगे।”

 जनता का फैसला स्वीकार: राहुल

– कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा, “कांग्रेस जनता के फैसले को स्वीकार करती है और दोनों राज्यों की नई सरकार को बधाई देती है। मैं गुजरात और हिमाचल प्रदेश के लोगों को हमें प्यार देने के लिए दिल से शुक्रिया अदा करता हूं।”

ये परफॉर्मेंस की जीत: शाह
– बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा ”देश की राजनीति में पॉलिटिक्स ऑफ परफॉर्मेंसी की जीत हुई है। इसका पूरा श्रेय राज्य की जनता और कार्यकर्ताओं को जाता है। गुजरात में हम छठी बार सरकार बनाने जा रहे हैं। हमारा वोट प्रतिशत बढ़ा है। इतने घोर जातिवादी प्रचार के बाद भी 1.25% की बढ़ोतरी हुई है।”
– ”गुजरात में कांग्रेस ने मुद्दों से भटककर जातिवादी नीति अपनाई। मुद्दों से भटकाया गया। कांग्रेस के सभी प्रमुख नेता वहां हारे। कांग्रेस का घोषणा पत्र देखिए। रेवेन्यू से ज्यादा प्रॉमिस किए गए थे। प्रचार के दौरान ऐसे शब्दों का प्रयोग हुआ जो आमतौर पर हम इस्तेमाल भी नहीं करते। लेकिन मोदी जी ने विकास की बात की और जनता ने उसे माना।”

हार्दिक बोले- बीजेपी अत्याचार करे, उन्हें शुभकामनाएं

– पाटीदार नेता आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने कहा, “जो फैसला आया है। हम ये कह सकते हैं कि गुजरात की जनता जागी तो है लेकिन बहुत जागने की जरूरत है। सूरत और राजकोट में ईवीएम टेम्परिंग हुई है।”
– “अगर एटीएम हैक हो सकते हैं तो ईवीएम क्यों नहीं। बीजेपी ने पैसे के जोर पर घटिया सोच को जीत में बदला। मैंने पहले ही कहा था कि नतीजे यही रहेंगे। बीजेपी हम पर अत्याचार करे। उनको शुभकामनाएं।”

# 7 अहम सीटों में से 5 बीजेपी के पास

सीट जीते हारे
राजकोट पश्चिम विजय रूपाणी (बीजेपी) इंद्रनील राजगुरु (कांग्रेस)
मेहसाणा नितिन पटेल (बीजेपी) जीवाभाई पटेल (कांग्रेस)
भावनगर जीतू वाघाणी (बीजेपी) दिलीप सिंह गोहिल (कांग्रेस)
वडगाम जिग्नेश मेवाणी (निर्दलीय) विजय कुमार चक्रवर्ती (बीजेपी)
पोरबंदर बाबूभाई बोखिरिया (बीजेपी) अर्जुन मोढवाडिया
राधनपुर अल्पेश ठाकोर (कांग्रेस) लविंगजी सोलंकी (बीजेपी)
मांडवी वीरेंद्रसिंह जडेजा (बीजेपी) शक्तिसिंह गोहिल (कांग्रेस)

# 2012 और 2017 में चुनावों में क्या रहे नतीजे?

पार्टी 2017 विधानसभा चुनाव वोट शेयर 2012 विधानसभा चुनाव वोट शेयर 2014 लोकसभा ( कुल सभी सीटें) वोट शेयर असेंबली सीटों पर बढ़त
बीजेपी 99 49.1% 115 47.9% 26 60.1% 162
कांग्रेस 77 41.4% 61 38.9% 00 33.5% 17
अन्य 06 9.2% 06 14% 00 00 00

# बीजेपी-कांग्रेस को कब कितनी सीटें मिलीं?

साल बीजेपी कांग्रेस
1995 121 45
1998 117 53
2002 127 51
2007 117 59
2012 115 61
2017 99 77
Share.

About Author

Leave A Reply