About us

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के बुलावे पर 7-8 जून को वाशिंगटन की यात्रा पर जाएंगे

0
इस यात्रा का उद्देश्य अर्थव्यवस्था, ऊर्जा, पर्यावरण, रक्षा एवं सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग में प्रगति की समीक्षा करना और भविष्य में सहयोग को प्रगाढ़ बनाने के उपायों पर विचार करना है। विदेश मंत्रालय के अनुसार गत दो वर्षों के दौरान मोदी और ओबामा के नेतृत्व में भारत अमेरिका द्विपक्षीय सामरिक साझेदारी बहुत तेजी से प्रगाढ़ हुई है। इस यात्रा के दौरान अर्थव्यवस्था, ऊर्जा, पर्यावरण, रक्षा एवं सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग को ठोस आकार देने और भविष्य के लिए सहयोग बढ़ाने पर बात होगी।
मोदी को अमेरिकी संसद के निचले सदन प्रतिनिधिसभा के अध्यक्ष पॉल रेयान ने अमेरिकी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया है। वे 2016 में ऐसे पहले विदेशी नेता होंगे जिन्हें यह सम्मान हासिल होगा। अमेरिकी संसद भारत अमेरिका सामरिक साझेदारी के पीछे प्रमुख ताकत है।         इस यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री प्रमुख अमेरिकी कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों से भी मिलेंगे और भारत-अमेरिका आर्थिक साझेदारी की पूर्ण क्षमता का दोहन दोनों देशों की प्रमुख प्राथमिकता है और इस संबंध में हुई प्रगति निवेश के बढ़ते प्रवाह से दिखाई देता है।
Share.

About Author

Leave A Reply