About us

बाबा राघव दास (BRD) में योगी आदित्यनाथ यहां दौरा करने पहुंचे

0
बाबा राघव दास (BRD) मेडिकल कॉलेज में 64 मरीजों की मौतों के बाद रविवार को योगी आदित्यनाथ यहां दौरा करने पहुंचे। उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा और यूपी के मेडिकल एजुकेशन मिनिस्टर आशुतोष टंडन भी रहे। इस घटना पर केंद्र ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हरसंभव मदद की बात कही है। घटना की जांच जरूरी है। इस बीच कांग्रेस ने कहा कि बच्चों की मौत नहीं हुई, उनकी हत्या की गई है। ये सरकार हत्यारी है।
– कांग्रेस के यूपी चीफ राज बब्बर ने कहा, “बच्चों की मौत नहीं हुई, उनकी हत्या हुई है। बीजेपी सरकार हत्यारी है। मैं हत्यारी सरकार से पूछना चाहता हूं कि अभी कितने और बच्चे मरेंगे।”
– “गोरखपुर में हुआ ये हत्याकांड शर्मनाक है। इसलिए शर्मनाक है कि घटना के 48 घंटे पहले मुख्यमंत्री हॉस्पिटल आए थे। यहां के अफसरों-डॉक्टरों के साथ चाय पी रहे थे।”
– “योगी कह रहे हैं कि जांच गठित की गई है। मैं पूछना चाहता हूं कि ये किस बात की जांच की जा रही है। सरकार तो अपने फैसले में पहले ही कह चुकी है कि ये मौतें ऑक्सीजन की वजह से नहीं हुईं।”
– “मैं योगी के चुनाव क्षेत्र गोरखपुर गया। वे यहीं से कई बार सांसद रहे। अब वे मुख्यमंत्री हैं। लगता ही नहीं कि ये उनका क्षेत्र है।”
 गैस सप्लाई बाधित होने से बच्चों की मौत नहीं हुई
– हेल्थ मिनिस्टर सिद्धार्थ नाथ सिंह ने शनिवार को कहा- ”हमने जांच की है और हम इस निष्कर्ष पर आए हैं कि गैस सप्लाई बाधित होने से बच्चों की मौत नहीं हुई है। मामले में लापरवाही बरतने की वजह से कॉलेज के प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया है। दोषियों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।”
– उन्होंने माना कि हॉस्पिटल की रिपोर्ट के मुताबिक, 7 अगस्त से अलग-अलग बीमारियों की वजह से 60 बच्चों की मौत हुई। –सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि गोरखपुर में जो हुआ वह गलत है। मैं खुद दो बार बीआरडी कॉलेज गया था। इस पर नरेंद्र मोदी भी चिंतित हैं। मैं मीडिया से कहना चाहता हूं कि तथ्यों को सही तरह से रखा जाए। आप सही आंकड़े देंगे तो ये मानवता की बड़ी सेवा होगी।
– योगी ने कहा कि मैं आपसे कहना चाहता हूं कि तथ्यों को सही तरह से रखा जाए। आज अलग-अलग पेपर्स में अलग आंकड़े पब्लिश हुए हैं। 7 अगस्त को 9 मौतें हुई हैं। 8 अगस्त को 12 मौतें हुई हैं। 9 अगस्त को 9 मौतें हुई हैं। 10 अगस्त को 23 मौतें और 11 अगस्त को 12 बजे तक 11 मौतें हुई हैं।
– उधर, कांग्रेस, एसपी और बीएसपी समेत विपक्ष ने योगी से इस्तीफा मांगा है। मायावती ने कहा कि बीजेपी की जितनी निंदा की जाए उतनी कम है।
यूपी के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- अगस्त में ज्यादा मौतें होती हैं
– यूपी के हेल्थ मिनिस्टर सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा, “हर साल अगस्त में ज्यादा मौतें होती हैं। अगस्त के महीने में 2014 में बीआरडी के पीडियाट्रिक विंग में 567 बच्चों की मौतें हुईं। 19 बच्चे हर रोज मौत के मुंह में गए। 2015 में 668 मौतें हुईं, करीब 22 बच्चों की मौत हर दिन हुईं। 2016 में 587 बच्चों की मौत यानी 19-20 मौतें हर रोज हुई थीं।”
मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को सस्पेंड किया
– अनुप्रिया पटेल ने कहा, “बहुत सारी बातें हम सही स्वरूप में नहीं समझ रहे हैं, उन्हें सीएम ने आपके सामने रखा। पिछले कई साल में बीआरडी में मौतों का क्या आंकड़ा है, ये हम बताएंगे। जो भी दोषी है, उसके ऊपर कठोरता के साथ कार्रवाई की जाएगी। मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल की गलती पाई गई, उन्हें सस्पेंड किया गया है। यूपी सरकार अपनी रिपोर्ट केंद्र को भेजेगी। मैं भी पीएम को अपनी रिपोर्ट भेजूंगी।”
Share.

About Author

Leave A Reply