About us

राहुल गांधी ने गुरुवार को नरेंद्र मोदी को उनके ‘रेनकोट’ बयान पर जवाब दिया

0
 उत्तराखंड में एक चुनावी रैली में राहुल ने कहा, “शायद पहले पीएम हैं मोदी जी, जो दूसरे प्रधानमंत्रियों के बारे में तमीज से नहीं बोल सकते, उनको सीखना चाहिए।” इस पर अमित शाह ने कहा, “मौत का सौदागर याद है, राहुल बाबा याद कीजिए आपकी माता जी ने क्या कहा था मोदी जी के बारे में।
– न्यूज एजेंसी के मुताबिक राहुल ने रैली में कहा, “मोदी जी में एक कमजोरी है, उन्हें खबरों में रहना अच्छा लगता है, जिस दिन वो खबर में नहीं आते, उस दिन उन्हें सही नींद नहीं आती।”
– “चाहे कुछ भी हो, मनमोहन जी देश के चुने हुए पीएम थे, वो हिंदुस्तान के पीएम थे।”
– “जब मोदी जी मनमोहन जी के बारे में ऐसे बोल रहे थे तो वो सिर्फ मनमोहन जी के बारे में नहीं, हिंदुस्तान के हर व्यक्ति के बारे में बोल रहे थे।”
कांग्रेस ने कहा- माफी मांगो
– लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “मैं संसद में पीएम से मिला और कहा ये (रेनकोट बयान) कहना ठीक नहीं था, उन्होंने (मोदी) कहा- आप लोग भी कहे हैं इसलिए हमें कहना पड़ा।”
– “यह ठीक नहीं हुआ, एक ईमानदार (मनमोहन सिंह) आदमी पर निजी हमले के लिए माफी मांगनी चाहिए।”
अमित शाह ने और क्या कहा?
– अमित शाह ने भी गुरुवार को उत्तराखंड में चुनावी रैली की।
– इस दौरान शाह ने राहुल को ‘मौत का सौदागर’ शब्द याद दिलाए, जो सोनिया गांधी ने कई साल पहले मोदी को कहे थे।
– शाह ने यह भी कहा कि हाल ही में लोकसभा में विपक्ष के नेता और राहुल ने सर्जिकल स्ट्राइक पर पीएम को खून की दलाली करने वाला कहा था।
– शाह ने यह भी कहा कि मोदी जी ने पूर्व प्रधानमंत्री के बारे में जो कहा, उसमें कुछ भी गलत नहीं है।
स्मृति बोलीं- कांग्रेस ने कहा था हिटलर, मुसोलिनी, गद्दाफी
– केंद्रीय मंत्री और बीजेपी लीडर स्मृति ईरानी ने भी इस मामले को लेकर कांग्रेस पर हमला बोला है।
– स्मृति ने ट्वीट्स कर कहा है, “कांग्रेस का सदन में तर्क बहुत पेनफुल है, उन्होंने पीएम को हिटलर, मुसोलिनी, गद्दाफी तक कहा। संसदीय कार्यवाही के दौरान कुत्ता शब्द यूज करना उसकी मानसिकता को दिखाता है।”
मोदी ने मनमोहन के बारे में क्या कहा था?
– नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राज्यसभा में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर बेहद तल्ख टिप्पणी की थी। जिस पर काफी हंगामा हुआ था और कांग्रेस ने सदन का बायकॉट किया था।
– मोदी ने कहा था, “30-35 साल से मनमोहन देश के आर्थिक फैसलों से सीधे जुड़े रहे हैं। इस दौरान इतने घोटाले हुए, लेकिन उनपर कभी कोई दाग नहीं लगा।”
– “बाथरूम में रेनकोट पहनकर नहाने की कला डॉक्टर मनमोहन सिंह ही जानते हैं।”
Share.

About Author

Leave A Reply