लगातार बारिश होने से मुंबई बेहाल

0
  • पिछले तीन दिनों से लगातार बारिश होने से मुंबई बेहाल है। मंगलवार को ही 100 मिमी से ज्यादा बारिश दर्ज की गई। शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। इसका असर ट्रेन और रोड यातायात पर पड़ा। कई इलाकों में लोकल ट्रेन नहीं चलीं। लो विजिबिलिटी की वजह से छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर फ्लाइट ऑपरेशन को कुछ वक्त के लिए रोकना पड़ा। उधर, महाराष्ट्र सरकार ने सभी ऑफिसेस को जल्द छुट्टी का आदेश दिया। कल स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। वेदर डिपार्टमेंट का कहना है कि अगले 24 घंटे में मुंबई में भारी बारिश हो सकती है। इस बारिश को देखते हुए ऐसा कहा जा रहा है कि मुंबई में 2005 जैसे हालात हैं। लेकिन मौसम विभाग के डायरेक्टर जनरल केजे रमेश ने इससे इनकार किया है। मोदी ने ट्वीट कर मुंबई के लोगों से सुरक्षित जगह पर रहने और जरूरी एहतियात बरतनें की अपील की।
    1) मुंबई हालात क्यों बिगड़े?
    – मुंबई में पिछले तीन दिनों से लगातार बारिश हो रही है। सोमवार सुबह 8 बजे से मंगलवार सुबह तक करीब 152 मिमी बारिश हुई। वहीं, मंगलवार को पूरे दिन 100 मिली से ज्यादा बारिश हुई।
    2) किस इलाके में सबसे ज्यादा बारिश हुई?
    – बीएमसी के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर सुधीर नाईक ने बताया कि वडाला में सबसे ज्यादा 253 मिमी बारिश हुई।
    3) क्या असर हुआ?
    – मुंबई की लाइफ लाइन लोकल ट्रेन पर असर हुआ। सेंट्रल, वेस्टर्न और हार्बर लाइन्स पर लोकल ट्रेन रुक-रुक कर चलीं। उधर, कुछ इलाकों में बेस्ट की सर्विस पर भी असर पड़ा।
    – फ्लाइट ऑपरेशन पर भी असर पड़ा। लो विजिबिलिटी की वजह से छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर फ्लाइट ऑपरेशन को कुछ वक्त के लिए रोकना पड़ा। वहीं, तीन फ्लाइट्स को अहमदाबाद डायवर्ट करना पड़ा।
    – लोअर परेल, जोगेश्वरी, विक्रोली, दादर, एलफिस्टन, कुर्ल, अंधेरी, खार, वेस्ट, घाटकोपर, सायन और हिंदमाता इलाकों में पानी भरने से जाम लग गया।
    4) मुंबई पुलिस ने कहा- जरूरी होने पर ही घर से निकले
    – मुंबई में सुबह से भारी बारिश और जगह-जगह पानी भर जाने के बाद पुलिस ने लोगों को जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने के लिए कहा है। मुंबई पुलिस ने ट्वीट में कहा- ” शहर के कई इलाकों में वाटर लॉगिंग होने से ट्रैफिक धीमा और कई जगह जाम है। इसलिए बहुत ही जरूरी होने पर घर से बाहर निकलें।”
    ‌- “पानी की वजह से अगर आप कहीं फंस गए हैं तो 100 नंबर डॉयल करें या हमें ट्विटर पर जानकारी दें।”
    5) मोदी ने फडणवीस से बात की, लोगों से कहा- एहतियात बरतें
    नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बताया- “मुंबई में हो रही बारिश को लेकर मैंने महाराष्ट्र सीएम देवेंद्र फडणवीस से बात की। इन हालात से निपटने के लिए केंद्र सरकार महाराष्ट्र सरकार को सभी तरह की मदद का मुहैया कराएगा।”
    – उन्होंने लोगों से अपील की कि वे सुरक्षित इलाकों में रहे और जरूरी एहतियात बरतें।
    – गृहमंत्री राजनाथ ने भी फोन पर देवेंद्र फडणवीस से बात कर हालचाल जानें।
    6) 2005 जैसे हालात नहीं
    – न्यूज एजेंसी को मौसम विभाग के डायरेक्टर जनरल केजे रमेश ने बताया कि अगले 24 घंटे में मुंबई, नवी मुंबई, विरार और ठाणे में भारी बारिश हो सकती है। शहर में सुबह 8:30 बजे से 2 बजे तक करीब 100 मिली बारिश रिकॉर्ड की गई।
    – उन्होंने कहा कि अभी 26 जुलाई 2005 जैसे हालात नहीं हैं। बता दें कि 26 से 27 जुलाई तक एक दिन में मुंबई में 94 सेमी (944 मिमी) बारिश हुई थी।
    7) मुंबई में एक दिन में नॉर्मल कितनी बारिश होती है?
    – केजे रमेश के मुताबिक, मुंबई में आमतौर पर एक दिन में 10 से 15 सेमी बारिश नॉर्मल मानी जाती है। 26 जुलाई 2005 को बारिश ने सभी रिकॉर्ड (94 सेमी) तोड़ दिए थे।
    8) सरकार की क्या तैयारी है?
    – एनडीआरएफ की 3 टीमों को मुंबई में अलर्ट पर रखा गया है। 2 एडिशनल टीम को पुणे से मुंबई भेजा गया है। वेदर डिपार्टमेंट ने अगले 24 घंटों में महाराष्ट्र में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। खासकर नॉर्थन कोंकण रीजन में।
    – बीएमसी के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर सुधीर नाईक 6 बड़े पंपिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं। वहीं, बीएमसी के 30,000 कर्मचारी शहर के अलग-अलग इलाकों में काम कर रहे हैं।
    – नेवी ने कहा कि भारी बारिश के बाद किसी भी हालात से निपटने के लिए नेवी के हेलिकॉप्टर और डायवर्स रेडी टू मूव मोड पर रखा गया है।
    9) कल स्कूल-कालेज बंद रहेंगे
    – महाराष्ट्र एजुकेशन मिनिस्टर विनोद तावडे ने बताया कि बुधवार सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। मंगलवार को कुछ स्कूल ने जल्दी छुट्टी कर दी थी। वहीं, सरकार ने सभी ऑफिसेस को छुट्टी करने के आदेश दिए।
    10) आयरन फ्रेम गिरने से 4 जख्मी
    – मुंबई के वीपी रोड पर मंगलवार को पोस्टर लगाने वाली आयरन की एक फ्रेम गिरने से चार लोग जख्मी हो गए। उन्हें सैफी हॉस्पिटल में एडमिट किया गया।
    – बीएमसी के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में यहां बारिश से जुड़े 42 एक्सीडेंट सामने आए। हालांकि, इनमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। तीन जगह दीवार गिरने की बात सामने आई है। वहीं, 16 जगह पर शॉर्ट शर्किट और 23 जगह पर पेड़ या उनकी ब्रांच गिरने की घटनाएं सामने आई हैं।
Share.

About Author

Leave A Reply