About us

वानी की मौत हिज्बुल के लिए बड़ा झटका

0
वानी की मौत हिज्बुल के लिए बड़ा झटका मानी जा रही है। दूसरी ओर सेना का मनोबल इस मुठभेड़ के बाद काफी ऊंचा है। इससे यह भी साफ जाहिर है कि हिज्बुल किसी को भी अपना कमांडर बना ले, वह सेना से बच नहीं पाएगा। यह भी माना जा रहा है कि हिज्बुल अब आतंकवाद के जहर को ज्यादा दिन लोगों के बीच नहीं फैला पाएगा।
यह हो सकता है नया कमांडर : इंटेलीजेंस ब्यूरो के मुताबिक 21 वर्षीय बुरहान की मौत के बाद हिज्बुल मुजाहिदीन ने अब 21 वर्ष के ही एक अन्य युवक महमूद गजनबी को में हिज्बुल का नया कमांडर बनाया है। हालांकि मंगलवार को खबरें आई थीं कि सबजार अहमद को हिजबुल का नया कमांडर बनाया गया है। गजनबी कोई और नहीं बल्कि 21 वर्ष का जाकिर राशिद भट्ट ही है, जिसकी सुरक्षा एजेंसियों को लंबे समय से तलाश है। सईद सलाहुद्दीन ने भी एक लोकल न्यूज एजेंसी को बयान जारी कर गजनबी के बारे में जानकारी दी थी।
हालांकि सुरक्षा एजेंसियों को गजनबी के बारे में बहुत ही कम जानकारी है। पुलिस ने पिछले वर्ष उस पर नकद इनाम तक घोषित किया था। अधिकारियों का कहना है कि गजनबी भी दक्षिण कश्मीर के रथसुना का रहने वाला है। वह बुरहान का काफी अच्छा दोस्त था और पिछले वर्ष ही संगठन में शामिल हुआ है। वह पिछले वर्ष अप्रैल में बुरहान के भाई की मौत के बाद हिजबुल से जुड़ा था।
इस बात के भी संकेत हैं कि यह व्यक्ति जाकिर हो सकता है। वहीं एक समूह यह मानता है कि यह व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि सबजार अहमद भट्ट ही है। जाकिर भट्ट की उम्र भी 21 वर्ष है और उसने चंडीगढ़ के इंजीनियरिंग कॉलेज से पढ़ाई की है। वह बहुत ही निचले दर्जे का ऑपरेटिव है और बुरहान के काफी करीब था। बुरहान ने सोशल मीडिया के जरिए इस बात की जानकारी दी थी।
विरोध प्रदर्शनों में शामिल रहे जाकिर के पिता एक सरकारी कर्मी थे। उसने लिखा था कि वह कश्मीर के लोगों पर हो रहे जुल्मों को बर्दाशत नहीं कर सकता है। ऐसे में अब समय आ गया है जब वह जेहाद को अंजाम दे। बुरहान की ही तरह वह भी काफी छोटी उम्र से ही सक्रिय है। वर्ष 2010 में कश्मीर में हुए कई विरोध प्रदर्शनों में उसने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था। इसके बाद वह चंडीगढ़ चला गया और फिर कश्मीर लौट आया। उसे लगा कि अब उसे भी कश्मीर की लड़ाई में शामिल होना चाहिए।
नए कमांडर महमूद गजनबी को बुरहान के जनाजे में भी देखा गया था। बुरहान वानी की मौत के चार दिन बाद मंगलवार को कमांडर काउंसिल बैठक के बाद हिज्बुल के सुप्रीम कमांडर सलाहुद्दीन ने महमूद गजनबी को नया कमांडर बनाने की घोषणा की। बुरहान के जनाजे का एक वीडियो वायरल होने के बाद नए कमांडर को लेकर चर्चाओं ने जोर पकड़ा था। इस वीडियो में महमूद गजनबी को कंधों पर उठाए लोग नारेबाजी करते दिख रहे हैं। इससे माना जा रहा था कि बुरहान की जगह महमूद गजनबी को ने नया कमांडर बनाया जा सकता है।
Share.

About Author

Leave A Reply