About us

कांग्रेसी नेता के गुर्गों ने लाठी-डंडों से जमकर कर्मचारियों की पिटाई कर उनकी हड्डी-पसली तोड़ दी

0
हाईवे के टोल प्लाजा पर कांग्रेसी नेता और पूर्व मंत्री के रेत से भरे ट्रकों से टोल टैक्स मांगना वहां के कर्मचारियो को महंगा पड़ गया। कांग्रेसी नेता के गुर्गों ने लाठी-डंडों से जमकर कर्मचारियों की पिटाई कर उनकी हड्डी-पसली तोड़ दी और जमकर तोड़फोड़ करके लाखों रुपए लूट लिए। यह पूरी घटना CCTV में कैद हो गई है और पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।
-ग्वालियर-मुरैना के बीच हाईवे पर छोंदा नदी के पुल पर टोल प्लाजा है। बुधवार को तड़के 4 बजे रेत से भरे कई ट्रक यहां से निकले।
-टोल प्लाजा के कर्मचारियों ने ट्रकों से टोल टैक्स मांगा। ट्रक ड्राइवर ने कहा कि ये सभी ट्रक पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता एंदल सिंह कंषाना के भतीजे केपी कंषाना के हैं।
-कर्मचारी ने कहा कि बिना टैक्स दिए कोई ट्रक नहीं जाएगा और उसने बैरियर खोलने से मना कर दिया।
-इस बीच ड्राइवर ने केपी कंषाना को फोन करके जानकारी दी। कंषाना अपने दर्जनों कारिंदों के साथ तुरंत टोल प्लाजा पर पहुंचा।
मारपीट के साथ जमकर की तोड़फोड़
-इन कारिंदों ने जमकर टोल कर्मचारियों की पिटाई की। लाठी-डंडों से हर कर्मचारी को दौड़ा-दौड़ाकर मारा। कई कर्मचारियों ने हाथ भी जोड़े, लेकिन बदमाशों का दिल नहीं पसीजा।
-कांग्रेसी नेता के इन गुंडों ने मारपीट के साथ टोल प्लाजा पर जमकर तोड़फोड़ भी कर दी औऱ बंदूकें लहराते हुए गायब हो गए।
-इन बदमाशों ने टोल प्लाजा से टैक्स के रूप में आए डेढ़ लाख रुपए भी लूट लिए और लोगों को धमकाने के लिए देशी कट्टों और बंदूकों से जमकर फायर भी किए।
-घटना के बाद मुरैना के एसपी विनीत खन्ना पुलिस फोर्स के साथ टोल प्लाजा पहुंचे, लेकिन कोई भी बदमाश हाथ नहीं आया।
-यह पूरी घटना टोल प्लाजा पर लगे CCTV कैमरे में रिकॉर्ड हुई है और पुलिस जांच में जुटी है।
-इस मारपीट और तोड़फोड़ के मामले में पुलिस केपी कंषाना और 10 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

कौन है केपी कंषाना
-केपी कंषाना मुरैना के पूर्व कांग्रेसी विधायक और मंत्री रह चुके एंदल सिंह कंषाना का भतीजा है और वह चंबल नदी से रेत के अवैध उत्खनन करता है।
-तड़के इसी अवैध उत्खनन से लाई गई रेत से भरे ट्रकों को टोल प्लाजा से निकालने पर मारपीट की गई।

Share.

About Author

Leave A Reply