About us

खंडेरा वाली मैया के दरबार तक गुरुवार को 11 हजार मीटर लंबी चुनरी यात्रा निकाली गई

0
रायसेन से 18 किमी दूर खंडेरा वाली मैया के दरबार तक गुरुवार को 11 हजार मीटर लंबी चुनरी यात्रा निकाली गई। इस चुनरी यात्रा में हजारों श्रद्धालु शामिल हुए है। यात्रा की वजह से सागर-भोपाल मार्ग को करीब दस घंटे तक के लिए बंद किया गया है। इस मार्ग से निकलने वाले वाहनों को डायवर्ट किए गए मार्गों से होकर निकाला गया। यातायात व्यवस्था को बनाने के लिए सभी डायवर्ट रूटों पर 250 से अधिक पुलिस जवानों को भी तैनात किया गया है।
चुनरी यात्रा सांची रोड स्थित माता मंदिर से प्रारंभ होगी। जो महामाया चौक, सागर तिराहे से होकर करीब 18 किमी दूर खंडेरा वाली मैया के दरबार में पहुंचेगी। इस चुनरी यात्रा में रायसेन और विदिशा जिले के ग्रामीण अंचलों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल होने के लिए आएंगे।
हेलिकाप्टर से कराई जा रही है फूल की वर्षा
चुनरी यात्रा के 18 किलोमीटर के रास्ते में हेलिकाप्टर से गुलाब की फूलों की पंखुडिय़ां बरसाई जा रही है। आसमान में उड़ता हुआ हेलिकाप्टर चुनरी यात्रा में पहली बार फूल बरसाता दिखाई दिया। हेलिकाप्टर में उसकी क्षमता के हिसाब 80 किलो फूल एक बार में रखे गए। पहले राउंड के लिए गुलाब के फूल भोपाल से लोड करके लाए गए थे। रायसेन से हेलिकाप्टर पांच बार उड़ान भरेगा।
ऊंट, हाथी और घोड़े भी हुए चुनरी यात्रा में शामिल
चुनरी यात्रा के दौरान पंजाब का अखाड़ा, राजस्थान के नाचने वाले ऊंट और घोड़े, हाथी, रतलाम की मयूर पार्टी, मथुरा की रासलीला, झांसी की ढपला पार्टी के अलावा बेगमगंज, देहगांव और गैरतगंज के अखाड़े शामिल किए गए। इस यात्रा में जिले भर से हजारों लोग शामिल होते हैं।
Share.

About Author

Leave A Reply