About us

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए सिर्फ ट्राॅयल से काम नहीं चलेगा

0
अब हर व्यक्ति को इसके लिए ट्रेनिंग या ड्राइविंग स्कूल का सर्टिफिकेट भी आवेदन में लगाना पड़ेगा। ऐसा न करने पर आवेदन मान्य नहीं होगा। भोपाल सहित प्रदेश के आरटीओ में यह नई व्यवस्था 15 नवंबर के बाद लागू की जा रही है। गृह व परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह का कहना है कि हाल ही में बड़ोदरा में हुई मीटिंग के दौरान देशभर में यह व्यवस्था लागू करने पर सहमति बनी है।
 – आए दिन आरटीओ में बनने वाले ड्राइविंग लाइसेंस पर सवालिया निशान खड़े होते हैं। कभी ट्राॅयल लेकर तो कभी बिना उसके परमानेंट लाइसेंस बनाए जाने के आरोप आरटीओ पर लगते हैं।
– वहीं, हाईवे पर होने वाली दुर्घटनाओं के मामले बढ़ना भी चिंताजनक होता जा रहा है। ऐसे ही कारणों को देखते हुए विभाग ने परमानेंट लाइसेंस के आवेदन के साथ ड्राइविंग स्कूल या ट्रेनिंग सेंटर का सर्टिफिकेट जरूरी कर दिया है। ट्रांसपोर्ट कमिश्नर डॉ. शैलेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि नए मोटर व्हीकल एक्ट में भी इसे शामिल कर लिया गया है।
 तीन साल में मात्र 18 ड्राइविंग स्कूल संचालकों ने कराया नवीनीकरण
– पिछले तीन साल में मात्र 18 ड्राइविंग स्कूल संचालकों ने ही आरटीओ से अपने स्कूलों की मान्यता का नवीनीकरण करवाया है। जबकि शहर में छोटे व बड़े मिलाकर चार दर्जन से ज्यादा ड्राइविंग स्कूल संचालित हैं।
– यह ऐसे स्कूल हैं, जिनके संचालक कार मालिकों को गाड़ी सीधे सड़क पर सिखवाते हैं। उनके पास ड्राइविंग स्कूल का न तो कोई सेटअप है और न ही संसाधन। गौरतलब है कि परमानेंट लाइसेंस हर सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को बनते हैं।
 – पिछले तीन साल में मात्र 18 ड्राइविंग स्कूल संचालकों ने ही आरटीओ से अपने स्कूलों की मान्यता का नवीनीकरण करवाया है। जबकि शहर में छोटे व बड़े मिलाकर चार दर्जन से ज्यादा ड्राइविंग स्कूल संचालित हैं।
– यह ऐसे स्कूल हैं, जिनके संचालक कार मालिकों को गाड़ी सीधे सड़क पर सिखवाते हैं। उनके पास ड्राइविंग स्कूल का न तो कोई सेटअप है और न ही संसाधन। गौरतलब है कि परमानेंट लाइसेंस हर सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को बनते हैं।
 इस तरह के कोर्स…
– पहला कोर्स 21 दिन का होता है। इसमें थ्योरी से प्रेक्टिकल तक सब कुछ सिखाया जाता है। इसके लिए 3000 से 3500 रुपए फीस ली जाती है।
– दूसरा कोर्स एडवांस कोर्स होता है, जिसमें 13 दिन में थ्योरी के साथ प्रेक्टिकल ट्रेनिंग दी जाती है। इसके लिए 2 हजार से लेकर 2500 रुपए तक कार चालक से चार्ज किए जाते हैं।
 मान्यता प्राप्त ड्राइविंग स्कूल
– साईं मोटर ड्राइविंग स्कूल खजूरी कलां, सोमिल ड्राइविंग स्कूल संजय नगर, दीक्षा ड्राइविंग स्कूल करोंद, ड्रीम ड्राइविंग स्कूल चांदबड़, मारुति मोटर ड्राइविंग स्कूल जीवन मोटर्स एमपी नगर, सिद्ध विनायक ड्राइविंग स्कूल खजूरिया, मारुति ड्राइविंग स्कूल मॉयकार बीडीए कॉलोनी, मीडिया ड्राइविंग स्कूल शिवाजी नगर, कनक मोटर ड्राइविंग स्कूल ओल्ड सुभाष नगर आदि।
Share.

About Author

Leave A Reply