About us

दिल्ली HC नोटबंदी के खिलाफ दायर एक याचिका पर सुनवाई आठ दिसंबर को होगी

0
दिल्ली HC नोटबंदी के खिलाफ दायर एक याचिका पर अब अगली सुनवाई आठ दिसंबर को होगी। इससे पहले सोमवार को इस याचिका पर सुनवाई के लिए सहमत होते हुए कोर्ट ने कहा था कि एक बार करेंसी के गैरकानूनी हो जाने के बाद सरकार अस्पतालों और पेट्रोल पंपों जैसी कुछ पब्लिक सर्विस को पुराने नोट लेने के लिए कैसे कह सकती है।
-इस पिटिशन में 2000 रुपए के नए नोट बंद करने की मांग भी की गई है और नोटबंदी के कदम को असंवैधानिक और खराब नियम बताया गया है।
-पिटिशनर के वकीलों ए. मैत्री और राधिका चंद्रशेखर ने अदालत से अपील की कि 8 नवंबर और उसके बाद जारी विभिन्न नोटिफिकेशंस को कैंसिल किया जाए। वकीलों ने कहा कि ये नोटिफिकेशंस देश के संविधान और भारतीय रिजर्व बैंक कानून का उल्लंघन है।
क्या कहना है पिटिशनर का?
-पिटिशनर पूजा महाजन एक डिजाइनर शोरूम चलाती हैं। उन्होंने पिटिशन में इमरजेंसी सिचुएशन का हवाला देते हुए कहा है कि वह अपनी रोजी-रोटी कमाने में मुश्किलें आ रही हैं और इससे उनके मौलिक अधिकारों का उल्लंघन हो रहा है।
-उन्होंने सरकार पर दोहरा रुख अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ वह लोगों को पुराने नोट बैंक खातों में जमा करवाने के लिए कह रही है और दूसरी तरफ ढाई लाख रुपए से ज्यादा की रकम जमा कराने पर एक्शन की धमकी दे रही है।
Share.

About Author

Leave A Reply