About us

नोटबंदी के बाद राजधानी में सोमवार को अजीब स्थिति देखने को मिली

0
अपने NRI रिश्तेदारों के 500-1000 के पुराने नोट लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया(RBI) के दफ्तर पहुंचे कुछ लोग बैंक के बाहर चस्पा नोटिस को देखकर घबरा उठे।
RBI ने जारी किया नया नोटिफिकेशन…
31 दिसंबर, 2016 को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया(RBI) ने एक नोटिफिकेशन जारी किया था। इसके अनुसार, 500-1000 रुपए के पुराने नोट आगे से केवल RBI की गिनी-चुनी ब्रांचों पर ही बदले जाएंगे। इसके लिए 31 मार्च, 2017 तक की मोहलत दी गई थी। यह सुविधा आम लोगों के अलावा विदेशों में रहने वाले भारतीयों के लिए थी। लेकिन सोमवार को जब कुछ लोग अपने NRI रिश्तेदारों के पुराने नोट लेकर भोपाल स्थित RBI पहुंचे, तो उन्हें बाहर से ही लौटा दिया गया। उन्हें बताया गया कि, अब यह नोट सिर्फ नागपुर या मुंबई की RBI ब्रांच पर ही बदले जा सकेंगे।
गार्ड्स ने अंदर नहीं जाने दिया
नोटिस देखकर जब लोगों ने अंदर जाकर अधिकारियों से मिलने की कोशिश की, तो गार्ड्स ने उन्हें रोक लिया। देखते ही देखते वहां हंगामे के आसार बन गए। लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। इन लोगों का तर्क था कि, उनके रिश्तेदार उन्हें पुराने नोट देकर चले गए, ताकि हम उन्हें बदलवा सकें। हम कई दिनों से चक्कर काट रहे हैं, लेकिन अब कोई सुनने को तैयार नहीं। हम परेशान हैं। हमारे पास कोई कालाधन नहीं हैं।
वित्तमंत्री ने मना किया…
उल्लेखनीय है कि वित्तमंत्री अरुण जेटली ने पिछले दिनों नोट बदलवाने के लिए आम लोगों को एक और मौका देने से मना कर दिया था। उन्होंने तर्क दिया था कि बड़ी संख्या में लोग पहले ही नोट बदला चुके हैं। कुछ लोगों के पास ही अब पुराने नोट बचे हैं। वित्तमंत्री ने RBI के मानदंडों का सम्मान करते हुए दखल देने से मना कर दिया था।
NRI के लिए RBI की यह थी गाइडलाइन
-ऐसे भारतीय नागरिक जो नवंबर से 30 दिसंबर, 2016 तक विदेश में थे, वे 31 मार्च, 2017 तक अपने पुराने नोट बदवा सकते हैं।
-वहीं प्रवासी भारतीय(NRI) जो इस समयावधि में विदेश में थे, वे 30 जून, 2017 तक नोट बदलवा सकते हैं। इसकी लिमिट फेमा नियमों के तहत 25 हजार रुपए प्रति व्यक्ति निर्धारित की गई थी। नोट बदलवाने के लिए उन्हें पहचान पत्र के साथ ही इसका सबूत देना होगा कि वे इस समय अवधि में विदेश में थे। उन्होंने इससे पहले नोट नहीं बदलवाए।
Share.

About Author

Leave A Reply