पीएम नरेंद्र मोदी के मन की बात में एक दिन डीजल-पेट्रोल का इस्तेमाल न करने की अपील का असर

0
अशोकनगर जिले में दिखने लगा है। जिला प्रशासन ने मंगलवार को ‘कार फ्री डे’ के रूप में मनाया। कलेक्टर, एसपी सहित अन्य विभागों के सारे अफसर साइकिल से अपने दफ्तर पहुंचे। कुछ पैदल भी पहुंचे। किसी ने 25 तो किसी ने 15 साल बाद साइकिल चलाई।
एसडीएम अखिलेश जैन मंगलवार को कलेक्टोरेट में सरकारी गाड़ी से पहुंचे। उन्होंने बताया कि उनका स्वास्थ्य खराब है इस कारण इस बार गाड़ी से आए हैं। पहल अच्छी है अगली बार साइकिल से ही दफ्तर जाएंगे।
कलेक्टर बीएस जामोद अपने बंगले से 200 मीटर दूर कलेक्टोरेट साइकिल चलाते हुए पहुंचे। उन्होंने कहा कि साइकिल चलाना सेहत के लिए अच्छा है। डीजल-पेट्रोल के खर्च के साथ पर्यावरण को भी लाभ होगा।
15 साल बाद चलाई साइकिल : एसपी
एसपी संतोष सिंह गौर वर्दी में साइकिल चलाते हुए कलेक्टोरेट पहुंचे। उन्होंने अपनी साइकिलिंग का अनुभव बताया। उन्होंने बताया कि 15 साल बाद साइकिल चलाने का मौका मिला है। वे इस सिलसिले को जारी रखेंगे। आज उन्हें अपना बचपन याद आ गया। स्कूल के दिनों में खूब साइकिल चलाई है।
Share.

About Author

Leave A Reply