About us

प्रदेश में शिक्षा का पाठ्यक्रम बदला जाएगा- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

0
के ने मंगलवार को कहा कि प्रदेश में शिक्षा का पाठ्यक्रम बदला जाएगा। प्रदेश में विज्ञान, इतिहास और संस्कृति के साथ नैतिक शिक्षा पर केन्द्रित ऐसी शिक्षा पद्धति अपनाएंगे, जिससे चरित्रवान पीढ़ी तैयार हो। 
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार चौहान ने यह घोषणा यहां स्वामी अवधेशानंद जी के शिविर में की।  चौहान यहां सपरिवार भागवत कथा सुनने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि प्राचीन काल से भारत में संतों द्वारा शिक्षा दी जाती रही है। हम उसी प्रकार की शिक्षा पद्धति अपनाना चाहते हैं, जिससे इंसान को इंसान बनाया जा सके।
उन्होंने कहा कि अगले साल यह पाठ्यक्रम अमल में लाया जाएगा। नए पाठ्यक्रम में उपनिषद्, गीता तथा अन्य सभी धर्मों के ग्रंथों की खूबियां समाहित की जाएंगी। आश्रम में मुख्यमंत्री सपरिवार भागवत कथा सुनने पहुंचे थे। कथा में पूरा पंडाल गरबा की धुन पर थिरक रहा था। मुख्यमंत्री सपरिवार खूब थिरके।
चौहान ने स्वामी अवधेशनंद जी से आग्रह किया कि वे यहां आपसे प्रदेश की उन्नति के लिए मार्गदर्शन लेने आए हैं। उन्होंने सदबुद्धि बनी रहने और सन्मार्ग पर चलते रहने का आशीर्वाद चाहा।
Share.

About Author

Leave A Reply