फाइलों को अटकाने वाले अफसरों पर सीएम शिवराज सिंह चौहान जमकर बिफरे

0
घोषणाओं और योजनाओं की फाइलों को अटकाने वाले अफसरों पर सीएम शिवराज सिंह चौहान जमकर बिफरे। मंत्रियों और अफसरों की उच्च स्तरीय मीटिंग में सीएम ने कहा कि मैं घोषणा करता हूं और अफसर फाइलों पर परीक्षण की टीप लगाकर रोक देते हैं।
यदि अब ऐसा किया गया तो उनका ‘परमानेंट परीक्षण’ कर दिया जाएगा। इसी बीच राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने भोपाल में पीएचई और नगरीय विकास विभाग के बीच जमीन को लेकर चल रहे विवाद का मामला उठाया कि समाधान करने की बजाए लोग कोर्ट जा रहे हैं। इस पर भी सीएम खफा हुए। उन्होंने कहा, क्या ये दो देश हैं जो इस तरह हो रहा है? अफसरों से नहीं संभल रहा तो मंत्री से कहें। हल न निकले तो मेरे पास आएं।
इसी बीच मेधावी छात्र योजना का जिक्र निकला तो तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री दीपक जोशी और विभाग की प्रमुख सचिव कल्पना श्रीवास्तव ने कहा कि प्रस्ताव सीएस बीपी सिंह को भेज दिया है। सीएम ने सीएस से पूछा तो उन्होंने कहा, जल्द बैठक करके निर्णय लेंगे। इस पर नाराज होते हुए सीएम बोले, बार-बार बैठक किस लिए? एक बार योजना बन जाए तो उसे फ्लोर पर होना चाहिए। केंद्र सरकार को योजनाओं के खर्च का उपयोगिता प्रमाण-पत्र नहीं भेजने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अजा-अजजा विभाग और पीएम ग्राम सड़क योजना के अफसर इसे देखें।
सीएम ने खुद खाना सर्व किया
मंत्रियों के साथ पहली टिफिन पार्टी मंगलवार के कैबिनेट बैठक के बाद हुई। जब सभी मंत्री टिफिन खोलने लगे तो सीएम ने कहा, थोड़ा ठहरें। मेरे यहां से टिफिन अभी नहीं आया। इस पर संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जरूर। मंत्र पढ़ने के बाद ही खाएंगे। कुछ समय बाद जब आलू बड़े समेत अन्य खाद्य सामग्री पहुंचीं तो सीएम ने खुद उसे सभी मंत्रियों को सर्व किया।
कोई सब्जी तो कोई भर्ता लाया
कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन आम की चटनी और खाद्य मंत्री ओम प्रकाश धुर्वे खट्टे आम की चटनी लेकर आए। उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ला भरवा पूड़ी, महिला बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस लौकी-दही की सब्जी तो राज्यमंत्री संजय पाठक गक्कड़ और भर्ता लेकर पहुंचे। मंत्री रामपाल सिंह रोटी-सब्जी का सादा खाना लाए।
20 से जिलों में टिफिन पार्टी
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 20 मई से जिलों में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ टिफिन पार्टी होगी। इसमें बुद्धिजीवी, डॉक्टर, एनजीओ, बिजनेसमैन, प्रोफेसर व अन्य के साथ सीएम बैठक करेंगे। खाना खाएंगे। इसमें राज्य सरकार की योजनाओं के बारे में सभी से बात होगी।
Share.

About Author

Leave A Reply