About us

विराट कोहली का परिवार दिल्ली नहीं मप्र के कटनी का है

0
दिल्ली के विराट कोहली का परिवार दिल्ली नहीं मप्र के कटनी का है। विराट के चाचा-चाची आज भी इसी शहर में रहते हैं, लेकिन विराट ने पिछले कई सालों से उनसे बातचीत नहीं की है। विराट आखिरी बार अपने भाई की डेथ के बाद 2005 में आए थे।  विराट कोहली की चाची अाशा कोहली कटनी शहर की महापौर भी रह चुकी हैं। वे बताती हैं कि विभाजन के वक्त विराट के दादा कटनी आ गए थे। उनके पिता प्रेम कोहली भी कटनी के गुलाबचंद स्कूल से पढ़े। इसके बाद वे सारंगपुर चले गए और वहां से दिल्ली शिफ्ट हो गए। कोहली के चाचा ने बताया कि विराट और उनकी आखिरी बार कब बातचीत हुई थी, यह तो याद नहीं है लेकिन इस बात को कई साल हो चुके हैं। जब से वह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहा है, तब से एक-दो दफा ही बात हुई होगी। वे बताते हैं कि विराट अब सेलिब्रिटी हो चुके हैं और उनसे बात करने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है, इसलिए हम उन्हें परेशान नहीं करते। उन्होंने बताया कि विराट के बड़े भाई विकास अौर उनकी मां सरोज कोहली से लगातार बातचीत होती रहती है।विराट के चाचा गिरीश कोहली ने बताया कि विराट आखिरी बार 2005 में कटनी अाए थे। उस समय मेरे बेटे की डेथ हुई थी। गिरीश ने बताया कि विराट के पिता 15 साल नैरोबी में भी रहे हैं। दिल्ली में विराट के पापा ने एक बिजनेस शुरू किया था, जिसे अब विराट के बड़े भाई विकास संभाल रहे हैं। उनकी बड़ी बहन की शादी हो चुकी है। विराट न्यूजीलैंड दौरे के कारण बहन की शादी में भी नहीं जा पाए थे। विराट के कजिन रूपक कोहली भी गुड़गांव स्थित एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करते हैं। रूपक बताते हैं कि वर्ल्ड टी-20 में शानदान प्रदर्शन के बाद मैंने उन्हें बधाई दी थी। वे काफी बिजी रहते हैं, इसलिए घरवाले उन्हें फ्री रखते हैं और ज्यादा परेशान नहीं करते।विराट कोहली दिल्ली से गुड़गावं शिफ्ट हो गए हैं। उनकी चाची आशा कोहली ने बताया कि कोहली को पश्चिम विहार वाले घर से एयरपोर्ट आने-जाने और अन्य कामों के लिए काफी समस्या आती थी, इसलिए वे गुड़गांव शिफ्ट हो गए हैं। करीब पांच महीने पहले ही वे अपने गुड़गांव के घर में गए हैं।
Share.

About Author

Leave A Reply