About us

यात्रा की नदियों के संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका-राजेन्द्र शुक्ल

0

वाणिज्य-उद्योग, रोजगार तथा खनिज साधन मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि ‘नमामि देवि नर्मदे”-सेवा यात्रा की नदियों के संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि माँ नर्मदा और पर्यावरण को बचाने के लिये सभी समाज तथा हर वर्ग के लोग भागीदारी कर रहे हैं। श्री शुक्ल आज रीवा में मध्यप्रदेश जन-अभियान परिषद के नर्मदा सेवा यात्रा के जिला-स्तरीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर मंत्री श्री शुक्ल द्वारा सम्मेलन में आये साधु-संतों, मंदिर के पुजारी और गुरुजनों को सम्मानित किया गया।

श्री शुक्ल ने कहा कि नदियों में अविरल धारा कायम रहे, इसलिये मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यह यात्रा शुरू की है। उन्होंने कहा कि यह अपने-आप में एक अलग हटकर अभियान है। इस पर पूरी दुनिया की निगाहें भी टिकी हैं। उद्योग मंत्री ने कहा कि नदियों के बिना जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी में हमेशा पानी बहता रहे, इसके लिये नदी के किनारे करोड़ों वृक्ष लगाये जाने का निर्णय लिया गया है।

उद्योग मंत्री ने कहा कि माँ नर्मदा को प्रदूषण-मुक्त करवाना ही होगा, ताकि आने वाली पीढ़ी सुखी तथा समृद्ध हो सके। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान ग्रामीणों द्वारा भी वृक्षारोपण किया जा रहा है। इससे यह संदेश भी मिल रहा है कि लोग पर्यावरण के प्रति जागरूक हो रहे हैं। श्री शुक्ल ने नर्मदा को प्रदूषण से मुक्त करवाने तथा उसके संरक्षण में योगदान का उल्लेख करते हुए कहा कि इस यात्रा को लोगों का भरपूर समर्थन मिल रहा है।

उद्योग मंत्री ने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से अन्य नदियों को भी संरक्षित किये जाने की प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने लोगों से आव्हान किया कि जन-आंदोलन के माध्यम से नदियों को संरक्षित किये जाने की दिशा में आगे आयें।

सांसद श्री जनार्दन मिश्र ने कहा कि यात्रा के माध्यम से दुनिया को यह संदेश जायेगा कि नदियों का संरक्षण ही जीवन का संरक्षण है। उन्होंने इसे समाज को नई दिशा देने वाला प्रयास बताया।

इस अवसर पर जन-अभियान परिषद के संभागीय समन्वयक श्री अमिताभ श्रीवास्तव सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

Share.

About Author

Leave A Reply