लापरवाही के बावजूद ड्राइवर को अपनी गलती का एहसास नहीं

होटल जहांनुमा में शुक्रवार देर रात जमकर हंगामा हो गया। यहां पैथोलॉजी-मेडिसन की नेशनल कान्फ्रेंस से शामिल होने के बाद डिनर करके ‘डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर’ की असिस्टेंट डायरेक्टर मोनल सिंह और उनकी साथी सुनीता शर्मा होटल के बाहर निकलीं थी। उसी दौरान टूरिस्ट बस(DL.1P.B.9204) का ड्राइवर लापरवाहीपूर्वक बस चलाते हुए उनके करीब तक ले आया। मोनल सिंह को जैसे ही बस ने हल्की टक्कर मारी, सुनीता शर्मा ने उन्हें अपनी ओर खींच लिया।
ड्राइवर बोला, हम तो ऐसे ही बस चलाते हैं
इस लापरवाही को लेकर मोनल सिंह ने ड्राइवर को टोका, तो दोनों की बहस हो गई। काफी देर हंगामा होने के बावजूद जब होटल स्टाफ ने मामला शांत नहीं कराया, तो मोनल सिंह ने श्यामला हिल्स थाने में इसकी शिकायत दर्ज करा दी। पुलिस इस मामले में जांच के बाद FIR दर्ज करेगी। हालांक शनिवार सुबह पुलिस ने ड्राइवर वाहिद(अशोका गार्डन निवासी) को थाने में बैठा लिया था।
लापरवाही के बावजूद ड्राइवर को अपनी गलती का एहसास नहीं हुआ
‘मैं कान्फ्रेंस से निकलकर होटल के बाहर घर जाने के लिए अपने ड्राइवर का इंतजार कर रही थी। उसी दौरान ड्राइवर लापरवाही टूरिस्ट बस को होटल की सीढ़ियों तक ले आया। जबकि वहां तक बड़े वाहनों को लाने की परमिशन ही नहीं होनी चाहिए। मैं जैसे-तैसे बस की चपेट में आने से बची। जब मैंने ड्राइवर को समझाया, तो वो बदतमीजी करने लगा। भोपाल टोन में बोला कि, मैडम 20 साल से ऐसेई बस चला रिया हूं, आगे भी ऐसे ही चलाऊंगा। मैंने होटल के मैनेजर को बुलाया, लेकिन उन्होंने अपना पल्ला झाड़ लिया। वे कहने लगे कि, मैं इस मामले में कुछ नहीं कर सकता। तब मैंने 100 डॉयल करके पुलिस को बुलाया। रात करीब 11.30 बजे श्यामला हिल्स में लिखित में शिकायत की।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *