About us

शुक्रवार को प्रदेश में अच्छी बारिश नहीं हुई तो एक बार फिर झमाझम के लिए लंबा इंताजार करना पड़ सकता

0

अगर शुक्रवार को प्रदेश में अच्छी बारिश नहीं हुई तो एक बार फिर झमाझम के लिए लंबा इंताजार करना पड़ सकता है। मौसम विभाग ने संभावना व्यक्त की है कि 10 और 11 अगस्त के बाद प्रदेश में वर्षा की गतिविधियों में कमी आएगी। इसके बाद कोई नया सिस्टम बनेगा तो फिर से बारिश की संभावना है। बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम 13 अगस्त तक बन सकता है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बीते 24 घंटों में जबलपुर, सागर, ग्वालियर, इंदौर, भोपाल, रीवा, शहडोल, होशंगाबाद, चंबस एवं उज्जैन संभागों के कुछ जिलों में अच्छी बारिश हुई है। हालांकि मौसम विभाग ने बुधवार को प्रदेश के 28 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की थी, जो बेअसर रही। भोपाल में हल्की फुहार के इतर बारिश ही नहीं हुई। जबकि भोपाल में बहुत भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई थी।

अब कल सुबह तक यहां हो सकती है भारी बारिश – गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, श्योपुर, ग्वालियर, दतिया, भिण्ड, मुरैना, पन्ना टीकमगढ़, छतरपुर में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। वहीं भोपाल में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना है।

13 दिन बाद हुई थी बारिश

 राजधानी में 13 दिन बाद 8 अगस्त को 18.7 मिलीमीटर बारिश हुई। 27 जुलाई से शहर में बारिश का दौर थम गया था। इससे पहले जुलाई में लगातार 20 दिन, 6 से 26 तारीख तक बारिश का सिलसिला चलता रहा था। इस दौरान कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश होती रही थी। इससे उम्मीद बंधी थी कि इस सीजन का कोटा पूरा हो जाएगा। इस सीजन में अब तक 485.1 मिमी बारिश हो चुकी है। पिछले साल भी अगस्त में ज्यादातर दिन सूखे रहे थे। पूरी महीने में सिर्फ 126 मिमी ही पानी बरसा था।
Share.

About Author

Leave A Reply