About us

श्रीदेवी का यहां के विले पार्ले श्मशान घाट में अंतिम संस्कार हुआ

0

श्रीदेवी का यहां के विले पार्ले श्मशान घाट में बुधवार शाम को अंतिम संस्कार हुआ। उनके पति बोनी कपूर ने मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार की रस्में पूरा करने के लिए तमिलनाडु से पंडित बुलाए गए थे।इससे पहले सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब से विले पार्ले तक पहुंचने में उनकी अंतिम यात्रा को करीब 2 घंटे लगे। इस दौरान उनके दर्शन के लिए हजारों की तादाद में फैन्स सड़कों पर मौजूद थे। उनकी पार्थिव देह को दुल्हन की तरह सजाया गया। कांजीवरम साड़ी पहनाई गई। माथे पर लाल बिंदी और होंठों पर लिपस्टिक भी लगाई। मोगरा के फूल भी पास रखे गए। बता दें कि श्रीदेवी का निधन 24 फरवरी की देर रात दुबई में हुआ था। फोरेंसिक रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि उनकी मौत बाथटब में डूबने से हुई थी।

अंतिम दर्शन के लिए सड़कों पर उमड़ी भीड़
– श्रीदेवी को नम आंखों से हजारों लोगों ने अंतिम विदाई दी। चेन्नई और हैदराबाद से 40 बसों में सवार होकर फैन्स मुंबई पहुंचे। अंतिम यात्रा में हजारों लोग श्रीदेवी के रथ के साथ चल रहे थे। सड़क के दोनों तरफ भी भीड़ नजर आई। लोगों ने मोबाइल टार्च जलाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

– विले पार्ले के श्मशान घाट पर अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, अर्जुन रामपाल, अनिल अंबानी, शक्ति कपूर, अनुपम खेर समेत कई सेलिब्रिटीज पहुंचे।

पहले नहीं दिखा ऐसा नजारा

– 2017 में शशि कपूर, विनोद खन्ना, ओम पुरी, रीमा लागू और इंदर कुमार जैसे सेलिब्रिटीज का निधन हुआ था। इनकी अंतिम यात्रा में भी इतने लोग नजर नहीं आए।

– 2012 में राजेश खन्ना की अंतिम यात्रा में पुलिस को भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा था, लेकिन श्रीदेवी की अंतिम यात्रा की तुलना में उनके फैंस की तादाद कम रही।

सफेद रंग में आखिरी विदाई की ख्वाहिश थी
– श्रीदेवी को सफेद रंग बेहद पसंद था। उनकी ख्वाहिश थी कि उनकी आखिरी विदाई में ज्यादा से ज्यादा सफेद रंग का इस्तेमाल किया जाए। इसी बात को ध्यान रखते हुए उनकी शव यात्रा में शामिल रथ को मोगरे के फूलों से सजाया गया। इस मौके पर उनके बंगले को भी चारों ओर से सफेद रंग के कपड़े से घेरा गया। उनके अंतिम दर्शन के लिए पार्थिव शरीर को सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब में रखा गया। वहां फूलों को मंडप सजाया गया था। यह ठीक वैसा ही था, जैसा शादी के लिए बनाया जाता है। इसके चारों तरफ सफेद फूलों की लड़ियां लगाई गई थीं।

रथ पर कौन-कौन थे?
– श्रीदेवी की पार्थिव देह के साथ रथ पर बोनी कपूर, अर्जुन कपूर, श्रीदेवी के भांजे मोहित मारवाह बैठे थे।

अंतिम दर्शन करने कई सेलिब्रिटी पहुंचे

– श्रीदेवी के अंतिम दर्शन करने हेमामालिनी, ईशा देओल, सुश्मिता सेन, ऐश्वर्या राय, अक्षय खन्ना और उर्वशी रोतैला जैसी कई सेलिब्रिटीज पहुंचीं। माधुरी दीक्षित, जया प्रदा, जया बच्चन, सुभाष घई, करण जौहर, रविकिशन, अजय देवगन, काजोल, बप्पी लाहिड़ी और जैकलीन फर्नांडीज भी श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देने पहुंचीं।

कब हुई थी मौत?

– श्रीदेवी की मौत शनिवार रात करीब 11.30 बजे जुमैरा एमिरेट्स टॉवर होटल के रूम नंबर 2201 में हुई थी। श्रीदेवी पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी के साथ भांजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने दुबई गई थीं।

शनिवार शाम दुबई के होटल में क्या हुआ?

– परिवार के एक करीबी के हवाले से खलीज टाइम्स ने बताया था कि बोनी कपूर शादी में शामिल होकर मुंबई लौट गए थे। 24 फरवरी को दोबारा दुबई लौटे और वे शाम करीब 5.30 बजे जुमैरा एमिरेट्स टॉवर होटल गए। यहीं श्रीदेवी रुकी हुई थीं। बोनी श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर पर ले जाने वाले थे। बोनी ने श्रीदेवी को जगाया और दोनों ने करीब 15 मिनट बात की। इसके बाद श्रीदेवी वॉशरूम गईं। जब वे 15 मिनट तक नहीं लौटीं तो बोनी ने बाथरूम का दरवाजा खटखटाया।

– अंदर से कोई रिस्पॉन्स न मिलने पर उन्होंने धक्का देकर दरवाजा खोला। बोनी ने देखा कि श्रीदेवी अचेत हालत में बाथटब में गिरी हुई थीं। बोनी ने उन्हें होश में लाने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। इसके बाद उन्होंने अपने दोस्त को फोन किया। उन्होंने करीब 9 बजे पुलिस को जानकारी दी।

– बाथरूम में बेहोश होकर गिरने के बाद उन्हें दुबई के रशीद हॉस्पिटल ले लाया गया। हॉस्पिटल पहुंचने के पहले श्रीदेवी का निधन हो चुका था।

दुर्घटनावश डूबने से हुई श्रीदेवी की मौत

25 फरवरी को जब श्रीदेवी की मौत की खबर आई थी, तब कहा गया था कि मौत कार्डिएक अरेस्ट से हुई। इसके बाद सोमवार फोरेंसिक रिपोर्ट में मौत की वजह ‘एक्सीडेंटल ड्राउनिंग’ यानी ‘दुर्घटनावश डूबना’ बताया गया।

– कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि श्रीदेवी के खून में अल्कोहल मिली। इसके बाद अनुमान लगाया गया कि शराब के नशे में श्रीदेवी अपना संतुलन खोकर बाथटब में गिर गईं। इसके बाद डूबने से उनकी मौत हो गई। खलीज टाइम्स ने रविवार रात को भी अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि श्रीदेवी की बॉडी पानी से भरे टब में पाई गई।

– फोरेंसिक रिपोर्ट सामने आने के बाद पुलिस ने यह मामला आगे की कार्रवाई के लिए पब्लिक प्रॉस्क्यूटर को सौंप दिया। इसके बात सरकारी वकील ने 22 घंटे की कानूनी औपचारिकाएं पूरी करने के बाद मंगलवार करीब ढाई बजे श्रीदेवी की बॉडी को ले जाने की इजाजत दी।

Share.

About Author

Leave A Reply