About us

मध्यप्रदेश हरित ऊर्जा में बनेगा नंबर वन प्रदेश

0

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्य प्रदेश हरित ऊर्जा के क्षेत्र में भी देश का पहले नंबर का राज्य बनेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार नवकरणीय ऊर्जा के उत्पादन और उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। श्री चौहान आज मुम्बई में नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए आयोजित रोड शो में निवेशक समुदाय को संबोधित कर रहे थे।  चौहान ने कहा कि लोगो की प्रगति और प्रदेश की तेज गति से तरक्की के लिए मध्य प्रदेश सरकार निवेशकों के साथ मिलकर एक टीम के रूप में काम करना चाहती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रीन ऊर्जा ही भविष्य की ऊर्जा है। विश्व का सबसे बड़ा 750 मेगावाट का सोलर पॉवर प्लांट रीवा में लग रहा है। इसमें 4500 करोड़ रूपये का निवेश होगा। उन्होंने हरित ऊर्जा के क्षेत्र में काम  कर रही कम्पनियो से आग्रह किया कि वे मध्य प्रदेश में आये। मध्य प्रदेश ने नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में अभूतपूर्व काम किया है।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में पिछले वर्षों में जो काम हुआ है, वह ऐतिहासिक है। उन्होंने उद्योगपतियों से नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में सहभागी बनने का आग्रह किया।

इस मौके पर नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री हर्ष सिंह, ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष श्री विजेन्द्र सिंह सिसोदिया और मुख्य सचिव श्री अंटोनी डिसा उपस्थित थे। रोड-शो में नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा के प्रमुख सचिव श्री मनु श्रीवास्तव ने नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में अब तक किये गये कार्यों पर प्रस्तुतिकरण दिया।

Share.

About Author

Leave A Reply