About us

एटीएम में स्कीमर लगाकर कार्ड क्लोन करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के सरगना हुसैन हाकम को मुंबई से गिरफ्तार किया

0

राजधानी की साइबर पुलिस ने एटीएम में स्कीमर लगाकर कार्ड क्लोन करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के सरगना हुसैन हाकम को मुंबई से गिरफ्तार किया है। 11 सदस्यीय इस गिरोह में चार युवतियां शामिल हैं। इसी गिरोह ने ही गुलमोहर स्थित शिवाय कॉम्प्लेक्स के एसबीआई एटीएम में स्कीमर से कार्ड क्लोन कर लाखों रुपए निकाल लिए थे। गिरोह देशभर में कई शहरों में वारदातों को अंजाम दे चुका है, साइबर पुलिस को लंबे समय से इसकी तलाश थी। शिवाय कॉम्प्लेक्स मेें वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपियों ने क्लोन कार्ड से ही भोपाल से अहमदाबाद जाने वाली फ्लाइट का टिकट बुक कराया था। अहमदाबाद पहुंचकर आरोपियों ने रुपए निकाले थे।

पुलिस अधीक्षक सायबर सेल जितेन्द्र सिंह ने बताया कि गिराेह का सरगना मोहम्मद हुसैन हाकम है। उसका साथी और सह सरगना सदस्य फैजान नेपाल के रास्ते दुबई या सउदी अरब भाग गया है। गिरोह के सदस्य देशभर में एटीएम के कार्ड के क्लोन तैयार कर एक दर्जन वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। इससे एक करोड़ रुपए की राशि निकाल चुके हैं। गिरोह के सदस्य अधिकांश बड़े शहरों में वारदात को अंजाम देते थे, जो जानकारी मिली है। उसके अनुसार, मुंबई, हैदराबाद, लखनऊ, सूरत, शिमला और भोपाल में कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। 11 सदस्यीय गिरोह में चार युवतियां भी शामिल हैं।

ऐसे आया पकड़ में : जितेन्द्र सिंह ने बताया कि भोपाल के गुलमोहर स्थित शिवाय कॉम्पलेक्स 8 जनवरी 2017 को स्कीमर लगाकर डेबिट कार्ड के क्लोन तैयार कर अहमदाबाद से साढ़े सत्रह लाख से अधिक रुपए निकालने का मामला सामने आया था। पुलिस ने उस इलाके से कई सीसीटीवी फुटेज निकलवाए थे। जांच में दो युवक संदिग्ध नजर आए थे। इन युवकों ने इस दौरान एक अॉटो वाले से भी बातचीत की थी। अॉटो वाले से सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण जानकारी मिली थी। इसके बाद भोपाल सायबर सेल द्वारा जप्त किए गए फुटेज देश के सभी राज्यों के सायबर सेल, क्राइम ब्रांच एवं एसटीएफ को भेजे गए। इस बीच मुखबिर से सूचना मिली कि फुटेज में दिख रहा युवक मुंबई में रहता है। पता चला कि वीडियो हुसैन हाकम उस समय एक मामले में फरार चल रहा था। तीन महीने की निगरानी के बाद 16 जुलाई मुंबई के कालका रोड स्थित रिलायंस माल के पास से पकड़ लिया गया। आरोपी ने बताया है कि वो छह साल से इस तरह के अपराध कर रहा है। उसने दो बार भोपाल में दो बार इस तरह की वारदातों को अंजाम दिया है।

2017 में दो बार भोपाल आया था गिरोह : पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, गुलमोहर स्थिति शिवाय कॉम्प्लेक्स के एसबीआई एटीएम में स्कीमर लगाकर कार क्लोन कर इसी गिरोह ने लाखों रुपए निकाल लिए थे, जनवरी और जुलाई 2017 में ये गैंग भोपाल आया था। भोपाल आने के बाद गिरोह अलग-अलग शालीमार डीलक्स और बंजारा होटल में रुका था। फैजान अफजल नाम से हाकम समीर नाम से एवं आयशा समीरा बनकर यहां पर रुके थे। यहां से अलग-अलग इलाकों में कई एटीएम की रेकी की थी।

आरोपियों ने एमपी नगर से खरीदे थे उपकरण : ने एमपी नगर जोन-2 स्थित जूम इलेक्ट्रॉनिक्स से हॉर्ड डिस्क और केबल भी खरीदी थी। आरोपियों ने फ्लाइट के टिकट भी क्लोन किए गए कार्ड से ही खरीदे थे। पुलिस जांच में पता चला है कि गिरोह के सदस्यों ने चाइनीज बेवसाइट से ऑनलाइन स्कीमर एवं अन्य उपकरणों मंगाने के बारे में जानकारी ली थी।

Share.

About Author

Leave A Reply