About us

कठुआ और उन्नाव रेप केस पर प्रधानमंत्री ने अपनी चुप्पी तोड़ी, इससे मैं खुश हूं – पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

0

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कठुआ रेप केस पर नरेंद्र मोदी के बयान देने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि कठुआ और उन्नाव रेप केस पर आखिरकार प्रधानमंत्री ने अपनी चुप्पी तोड़ी, इससे मैं खुश हूं। उन्होंने कहा कि मोदी मुझे बोलने की सलाह दिया करते थे, उन्हें खुद उस पर अमल करना चाहिए। इस पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मनमोहन अपने कार्यकाल की तुलना मोदी के कार्यकाल से कृपया ना करें।

– मनमोहन सिंह इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में कहा, ” मोदी ने दिल्ली में अंबेडकर म्यूजियम के उद्घाटन के मौके पर कहा था कि देश की बेटियों को न्याय मिलेगा। दोषियों को सजा मिलेगी। उन्होंने जो सलाह मुझे दी थी, वह खुद माननी चाहिए और ज्यादा बोलना चाहिए। जब मोदी ऐसे मामलों में जल्दी नहीं बोलते हैं तो लोग सोचते हैं कि वे दोषियों पर कठोर कार्रवाई करने से बच रहे हैं। ऐसे मामलों में जिम्मेदारों को वक्त पर बोलना चाहिए।”

– पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा, “दिल्ली में 2012 में हुए निर्भया कांड के बाद कांग्रेस सरकार दुष्कर्म के कानून में जरूरी बदलाव किए थे।”

मोदी के कहने पर तुरंत एक्शन लिया जाता है- रविशंकर प्रसाद

– रविशंकर प्रसाद ने कहा, “प्रधानमंत्री ने रेप के मामलों पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने इसे अमानवीय और शर्मनाक बताया है। जब प्रधानमंत्री कुछ कहते हैं तो उसे सुना जाता है और उस पर एक्शन लिया जाता है। डॉ. मनमोहन सिंह आपके साथ ऐसा नहीं होता, कृपया अपने दिनों की मोदीजी के दिनों के साथ तुलना ना करें।”

13 अप्रैल को रेप केस पर पहली बार बोले थे मोदी

– मोदी ने 13 अप्रैल को कठुआ सामूहिक दुष्कर्म और उन्नाव रेप केस पर पहली बार चुप्पी तोड़ी थी। उन्होंने अंबेडकर स्मारक के उद्घाटन के मौके पर इन दोनों घटनाओं का नाम लिए बिना कहा था, ‘‘पिछले दो दिन से जो घटनाएं चर्चा में हैं, वो निश्चित रूप से किसी भी सभ्य समाज को शोभा नहीं देतीं। ये शर्मनाक हैं। एक समाज के रूप में, एक देश के रूप में, हम सब इस के लिए शर्मसार हैं। मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूँ की कोई अपराधी बचेगा नहीं, न्याय होगा और पूरा होगा।’’
– मोदी ने कहा- ‘‘जिस तरह की घटनाएं बीते दिनों में देखी हैं, वो सामाजिक न्याय की अवधारणा को चुनौती देती हैं। जिन स्वतंत्रता सेनानियों ने देश के लिए जिंदगी कुर्बानी कीं, ये घटनाएं उनका अपमान हैं।’’

कठुआ: 8 साल की बच्ची से गैंगरेप, फिर हत्या

– जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में 10 जनवरी को अल्पसंख्यक समुदाय की एक 8 साल की बच्ची को अगवा किया गया। उसे रासना गांव के एक मंदिर में बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया। बाद में उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई। फिर पत्थर से सिर कुचल दिया गया। 17 जनवरी को उसका शव मिला था।

 उन्नाव: जिस विधायक पर रेप का आरोप, वह भाजपा का नेता
– दूसरा मामला यूपी के उन्नाव का है। वहां एक किशोरी ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ रेप का आरोप लगाया। पिछले साल 4 जून को शिकायत की। इसके बाद उसने पिछले हफ्ते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिंह के बंगले के बाहर खुदकुशी करने की कोशिश की। केस की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है। सीबीआई ने आरोपी विधायक को गिरफ्तार कर लिया।
Share.

About Author

Leave A Reply