About us

कम्प्यूटर बाबा बुधवार को मंत्रालय पहुंचे और उन्होंने धर्मस्व मंत्री पीसी शर्मा से मुलाकात की

0

कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही कम्प्यूटर बाबा मंत्री बनने की इच्छा जाहिर करते रहे हैं। बुधवार को भोपाल में मीडिया के एक सवाल पर कहा कि अगर प्रदेश सरकार मंत्री पद का ऑफर करती है तो वह जरूर विचार करेंगे। क्योंकि नर्मदा के संरक्षण के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। कम्प्यूटर बाबा बुधवार को मंत्रालय पहुंचे और उन्होंने धर्मस्व मंत्री पीसी शर्मा से मुलाकात की। इससे पहले कम्प्यूटर बाबा मंत्रालय में कंप्यूटर बाबा और धर्मस्व मंत्री पीसी शर्मा से भी मुलाकात की। बाबा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में धर्मस्व विभाग के अंतर्गत किए जा रहे कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि संतों का आशीर्वाद प्रदेश सरकार के साथ है और रहेगा। उन्होंने कहा कि मंत्री पद को स्वीकारने से पहले वह अन्य संतों से इस विषय पर चर्चा करेंगे, उसके बाद ही कोई फैसला लेंगे। साथ ही बताया कि वह पूर्व की शिवराज सरकार का काला चिट्ठा भी प्रदेश की कमलनाथ सरकार को सौंपेंगे. इस दौरान उन्होंने प्रयागराज में आयोजित कुंभ में अव्यवस्थाओं पर योगी सरकार पर निशाना भी साधा। कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि जिस प्रदेश का मुख्यमंत्री योगी हो वहां के संत परेशान हैं। इससे अच्छा तो समाजवादी की सरकार में था। प्रयागराज में व्यवस्था बेहतर होने का यूपी सरकार ने सिर्फ ढिंढोरा पीटा है, जबकि वास्तविकता बिल्कुल अलग है। सरकार ने कुंभ के नाम पर करोड़ों रुपए डुबा दिए। जिसका कम्प्यूटर बाबा ने आरटीआई के तहत हिसाब मांगा है, जिससे योगी सरकार की हकीकत जनता के सामने लाएंगे। जहां कृषि मंत्री सचिन यादव से उन्होंने मुलाकात भी की। उन्होंने प्रदेश में किसानों के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की। कर्जमाफी को कमलनाथ सरकार की उपलब्धि बताया।

Share.

About Author

Leave A Reply