About us

कर्मचारियों के साथ मिलकर तैयार करेंगे घोषणापत्र-प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ

0

चुनावी साल में अभी तक राज्य सरकार ही प्रदेश के कर्मचारियों को रिझाने लगी थी। अब विपक्षी दल कांग्रेस भी उसी रास्ते पर चल पड़ी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ सोमवार को कर्मचारी संगठनों के प्रमुख से मिले। कमलनाथ ने कहा है कि मेरी चुनौती किसी और से नही बल्कि समय से है, भाजपा चाहती है कि कर्मचारी भीख मांगें। प्रदेश के हर कर्मचारी संघ का किसी ना किसी तरह भाजपा सरकार में अपमान हुआ है।  सोमवार को कमलनाथ ने कर्मचारी संगठनों के साथ होटल पलाश में बैठक की गई, जिसमें कर्मचारी संघों के प्रदेश अध्यक्षों और प्रदेश महामंत्री शामिल हुए। कांग्रेस के घोषण पत्र पर चर्चा की गई, जिसमें प्रदेश के कई कर्मचारी वर्गों ने सहमति जाहिर की है। कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस कर्मचारियों का ये सम्मान लौटाएगी और कर्मचारियों के साथ मिलकर घोषणा पत्र तैयार करेंगें। कर्मचारियों की मांगें केवल घोषणा पत्र में नहीं बल्कि कांग्रेस का वचन होगा, जिसे हर हाल में पूरा किया जाएगा। जो साथ नहीं है, उसे भी अपने साथ जोड़ें। सिर्फ 6 महीने की बात है, आज व्यस्था में बदलाव की जरूरत है।

बैठक में ये हुए शामिल

– बैठक में तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के एलएन कैलासिया, निगम मंडल कर्मचारी संघ के चंद्रशेखर परसाई, अनिल बाजपेयी, जितेन्द्र सिंह, इंजीनियर अशोक शर्मा, सुरेन्द्र सिंह सोलंकी, भुवनेश पटेल, एससी शर्मा, आरके द्विवेदी सहित कई कर्मचारी नेता शामिल थे। सभी ने अपनी-अपनी बात कमलनाथ, बाला बच्चन और पीसी शर्मा के सामने रखी।

इन मुद्दों पर हुई चर्चा

– संविदा कर्मचारियों- अध्यापकों का संविलियन।
– लिपिकों की वेतन विसंगति।
– बाकी कई कैडर के कर्मचारियों के ग्रेड पे में सुधार।

– स्थाई कर्मियों, कार्यभारित कर्मचारियों की लंबित मांगों।
– अग्रवाल वेतन आयोग की कर्मचारी हितैषी सिफारिशें लागू करने।

Share.

About Author

Leave A Reply