About us

कांग्रेस महिला सशक्तिकरण के दो मौके पहले ही गंवा चुकी – नरेंद्र मोदी

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तीन तलाक पर कांग्रेस से समर्थन देने को कहा। मोदी ने कहा कि कांग्रेस महिला सशक्तिकरण के दो मौके पहले ही गंवा चुकी है। तीन तलाक बिल उनके लिए तीसरा मौका है। मोदी ने यह बात बजट सत्र में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा के जवाब में कही।  मोदी ने कहा कि 1950 के दशक में समान नागरिक संहिता का मौका आया था। लेकिन, तब कांग्रेस चूक गई और ‘हिन्दू कोड’ विधेयक ले आई। इसके 35 साल बाद शाहबानो वाले मामले में लैंगिक समानता सुनिश्चित करने का मौका आया था, तब भी कांग्रेस चूक गई। मोदी ने तीन तलाक विधेयक का जिक्र करते हुए कहा कि हम फिर विधेयक लाएं हैं। अब कांग्रेस पर तीसरा मौका है, वे इसका समर्थन कर सकते हैं। इसे किसी धर्म, संप्रदाय से जोड़कर देखने की जरूरत नहीं। प्रधानमंत्री ने कहा, कांग्रेस के एक मंत्री ने टीवी इंटरव्यू में कहा है कि शाहबानाे मामले को लेकर जब चर्चा चल रही थी तब कांग्रेस के एक मंत्री ने कहा था कि मुसलमानों के उत्थान की जिम्मेदारी कांग्रेस की नहीं है। अगर वे गटर में पड़े रहना चाहते हैं तो पड़े रहें। इस पर सदन में मौजूद कांग्रेस के नेताओं ने मंत्री का नाम पूछा। मोदी ने कहा कि यू-ट्यूूब का लिंक मिल जाएगा।

पिछले हफ्ते लोकसभा में पेश हुआ बिल 

सरकार ने लोकसभा में पिछले हफ्ते तीन तलाक बिल पेश किया। विपक्षी पार्टियों ने इसका विरोध भी किया। संक्षिप्त चर्चा के बाद बिल पर वोटिंग हुई। इसके पक्ष में 186 सदस्यों ने मतदान किया। जबकि, 74 ने इसका विरोध किया। तीन तलाक बिल पिछली लोकसभा में पारित हो चुका था। सोलहवीं लोकसभा का कार्यकाल खत्म होने और राज्यसभा में लंबित रहने की वजह से यह अपने आप ही समाप्त हो गया। इससे पहले सितंबर 2018 और फरवरी 2019 में तीन तलाक अध्यादेश जारी किया था, क्योंकि यह राज्यसभा से पारित नहीं हो सका था।

Share.

About Author

Leave A Reply