About us

कोई ताकत चीन को आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती – राष्ट्रपति शी जिनपिंग

0

चीन में कम्युनिस्ट पार्टी के 70 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में मंगलवार को एक समारोह आयोजित हुआ। इसमें राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि कोई ताकत चीन को आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती है। इस दौरान चीन ने अपनी नई मिसाइल डीएफ-41 को पहली बार दुनिया के सामने पेश किया। यह 15 हजार किलोमीटर तक मार कर सकती है। यानी अमेरिका तक पहुंचने में इसे महज 30 मिनट लगेंगे। एक तरफ चीन में सबसे बड़ी परेड संपन्न हुई तो दूसरी तरफ हॉन्ग कॉन्ग में बेहद हिंसक विरोध प्रदर्शन देखने को मिला। प्रो-डेमोक्रेसी एक्टिविस्टों ने चीन के झंडों को जलाया और सभी लोगों के लिए चुनाव लड़ने की आजादी की मांग की। चीन में कम्युनिस्ट शासन की सालगिरह को राष्ट्रीय दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

हम सभी देशों के लोगों के साथ काम करना जारी रखेंगे: शी

शी ने परेड के पहले दिए गए अपने भाषण में कहा, ‘‘कोई ताकत चीन के स्थायित्व को नहीं हिला सकती है। न कोई चीन और उसके लोगों को आगे बढ़ने से रोक सकता है। हम सभी देशों के लोगों के साथ काम करना जारी रखेंगे जो मानवता के भविष्य के लिए काम करने में यकीन रखते हैं।’’

चीन की सेना में 20 लाख सैनिक

चीन के पास दुनिया की सबसे बड़ी सेना मौजूद है। उसमें 20 लाख सैनिक हैं। परेड में चीन ने अपनी नई मिसाइल डीएफ-41 को पहली बार दुनिया के सामने पेश किया। यह इंटरकॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल 15 हजार किलोमीटर तक मार कर सकती है। यानी अमेरिका तक पहुंचने में इसे महज 30 मिनट लगेंगे। यह दुनिया की सबसे ताकतवर मिसाइल है। इसमें अलग-अलग क्षमता वाले 10 न्यूक्लियर वॉरहेड्स भी लगाए जा सकते हैं।

परेड में शामिल 160 फाइटर जेट और 580 तरह के सैन्य उपकरण

अमेरिका और रूस के बाद चीन की वायुसेना सबसे ताकतवर मानी जाती है। ड्रोन और पनडुब्बी भी परेड में शामिल किए गए। कुल 160 फाइटर जेट और 580 तरह के दूसरे सैन्य उपकरण इस परेड में दर्शाए गए। 15 हजार सैनिकों ने सैन्य बैंड के साथ मार्च पास्ट किया। भारत के पास भी अग्नि-5 के रूप में इंटर कॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल है। यह 5 हजार किलोमीटर तक मार कर सकती है।

Share.

About Author

Leave A Reply