About us

चौथी बार वर्ल्ड कप फाइनल खेलने का भारत का सपना बुधवार को टूट गया

0

चौथी बार वर्ल्ड कप फाइनल खेलने का भारत का सपना बुधवार को टूट गया। रवींद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी की कोशिशों के बावजूद न्यूजीलैंड ने भारत को 18 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही वह लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंच गया। वहीं, भारतीय टीम लगातार दूसरी बार सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गई। पिछली बार उसे ऑस्ट्रेलिया ने हराया था। मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड स्टेडियम में खेले गए सेमीफाइनल में 240 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 221 पर सिमट गई। टॉप ऑर्डर पूरी तरह फेल रहा। रोहित शर्मा, लोकेश राहुल और विराट कोहली केवल 1-1 रन बनाकर आउट हुए। निचले क्रम ने मैच में वापसी की कोशिश की, लेकिन अंतिम ओवरों में जडेजा (77 रन) और धोनी (50 रन) के आउट होने से फैसला न्यूजीलैंड के पक्ष में गया। न्यूजीलैंड ने 50 ओवर में 8 विकेट पर 239 रन बनाए। उसके लिए रॉस टेलर ने 74 और कप्तान केन विलियम्सन ने 67 रन की पारी खेली। भारत के लिए भुवनेश्वर कुमार ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए। भारतीय टीम 49.3 ओवर में 221 रन पर सिमट गई।

मैच के टर्निंग पॉइंट
1. नौ साल में भारत के टॉप ऑर्डर का सबसे खराब प्रदर्शन, बोल्ट और हेनरी का शुरुआती स्पेल

3.1 ओवर में भारत के 5 रन पर 3 विकेट गिर गए। शुरुआती 19 गेंदों में रोहित, राहुल और कोहली आउट हो गए। इससे पहले जनवरी 2010 में श्रीलंका के खिलाफ भारत के शुरुआती 3 विकेट 3.3 ओवर में गिरे थे। न्यूजीलैंड के ओपनिंग गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट और मैट हेनरी ने पहले 10 ओवर में सिर्फ 24 रन दिए। दोनों ने 4 भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया। बोल्ट की इनस्विंग गेंद पर कोहली एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। दूसरी ओर हेनरी ने रोहित-राहुल और कार्तिक को पवेलियन भेज दिया।

2. जडेजा का आउट होना : टीम का स्कोर जब 47.5 ओवर में 208 रन था तब जडेजा आउट हो गए। बोल्ट की गेंद पर वे छक्का मारने के प्रयास में विलियम्सन को कैच थमा बैठे। उन्होंने 56 गेंद की पारी में 4 चौके और 4 छक्के लगाए थे। यहां से भारत को जीत के लिए 31 रन बनाने थे।

3. धोनी का रनआउट : जडेजा के आउट होने के बाद धोनी ने अगले ही ओवर में फर्गुसन की पहली गेंद पर बैकवर्ड पॉइंट बाउंड्री के ऊपर छक्का मारा। इसके बाद तीसरी गेंद पर दो रन लेने के प्रयास में रनआउट हो गए। उन्हें गुप्टिल ने डायरेक्ट थ्रो पर पवेलियन भेज दिया।

पंत और पंड्या ने सेट होकर विकेट गंवाया

भारतीय टीम के 24 रन पर 4 विकेट गंवा चुकी थी। यहां से पंत और हार्दिक ने पांचवें विकेट के लिए 47 रन की साझेदारी की। पंत ने 23वें ओवर में सेंटनर की गेंद पर खराब शॉट खेल कर ग्रैंडहोम को कैच थमा दिया। इसके बाद हार्दिक ने 31वें ओवर में सेंटनर की गेंद पर ही विलियम्सन को कैच थमा बैठे।

धोनी ने आखिरी वर्ल्ड कप मैच में अर्धशतक लगाया
धोनी का यह आखिरी वर्ल्ड कप मैच था। उन्होंने 72 गेंद पर 50 रन बनाए। इस पारी में धोनी ने एक चौका और एक छक्का लगाया। उन्होंने इस वर्ल्ड कप में 9 मैच में 45.50 की औसत से 297 रन बनाए। विकेटकीपिंग में उन्होंने 7 कैच लिए और 3 स्टंप किए। धोनी ने पहली बार 2007 में वर्ल्ड कप खेला था। उसके बाद से इस टूर्नामेंट में उन्होंने कुल 29 मैच में 780 रन बनाए। इस दौरान 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल में नाबाद 91 रन बनाए थे। तब टीम उनकी कप्तानी में खिताब जीती थी।

लगातार तीसरे सेमीफाइनल में कोहली का बल्ला नहीं चला 
विराट कोहली अपने वर्ल्ड कप करियर में लगातार तीसरी बार सेमीफाइनल में नहीं चले। इससे पहले 2011 में पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल में वे 9 रन पर आउट हो गए थे। 2015 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में 1 रन और इस बार न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में भी 1 रन पर आउट हो गए।

भारत के हीरो: रवींद्र जडेजा

जडेजा ने 5 साल बाद वनडे में अर्धशतक लगाया। उन्होंने पिछला अर्धशतक 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ लीड्स में लगाया था। जडेजा-धोनी ने 7वें विकेट के लिए 116 रन की साझेदारी की। जडेजा का इस वर्ल्ड कप में यह दूसरा मैच ही था। उन्होंने गेंदबाजी में 1 विकेट अपने नाम किया। दो कैच लिए और एक रनआउट किया।
वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बचाने वाले फील्डर

रवींद्र जडेजा इस वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बचाने वाले फील्डर बन गए हैं। उन्होंने फील्डिंग के दौरान टीम इंडिया के लिए 41 रन सेव किए।

खिलाड़ी मैच इनर रिंग आउट फील्ड कुल रन बचा
रवींद्र जडेजा* 2 24 17 41
मार्टिन गुप्टिल 9 39 -5 34
ग्लेन मैक्सवेल 9 9 23 32
मार्कस स्टोइनिस 7 19 18 27
शेल्डन कॉट्रेल 9 17 10 27

* रवींद्र जडेजा वर्ल्ड कप के 2 मैचों में टीम इंडिया के लिए खेले हैं, लेकिन वे बाकी मैचों में सब्स्टिट्यूट फील्डर के तौर पर ग्राउंड में आते रहे हैं।

विलियम्सन न्यूजीलैंड के लिए एक वर्ल्ड में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज

विलियम्सन एक वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। उनके इस वर्ल्ड कप में 548 रन हो गए। उन्होंने गुप्टिल का रिकॉर्ड तोड़ा। गुप्टिल ने 2015 में 547 रन बनाए थे। न्यूजीलैंड के दो बल्लेबाज ही अब तक एक वर्ल्ड कप में 500+ रन बनाने में सफल रहे। विलियम्सन इस वर्ल्ड कप में अपने 500+ रन बनाने वाले चौथे बल्लेबाज हैं। रोहित शर्मा (647 रन) के नाम सबसे ज्यादा रन हैं।

बल्लेबाज रन वर्ल्डकप
केन विलियम्सन 548 2019
मार्टिन गुप्टिल 547 2015
स्कॉट स्टायरिस 499 2007
मार्टिन क्रो 456 1992
स्टीफेन फ्लेमिंग 353 2007

विलियम्सन ने निकोलस के साथ अर्धशतकीय साझेदारी की

जसप्रीत बुमराह ने चौथे ओवर की तीसरी गेंद पर मार्टिन गुप्टिल को पवेलियन भेज दिया। गुप्टिल सिर्फ एक ही रन बना सके। विराट कोहली ने उनका कैच लिया। रवींद्र जडेजा ने हेनरी निकोलस को आउट कर न्यूजीलैंड को दूसरा झटका दिया। निकोलस 28 रन बनाकर बोल्ड हो गए। उन्होंने विलियम्सन के साथ दूसरे विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की। जडेजा ने 10 ओवर में 34 रन दिए। जेम्स नीशम 12 रन बनाकर हार्दिक पंड्या की गेंद पर आउट हुए। कॉलिन डी ग्रैंडहोम (16) को भुवनेश्वर ने आउट किया।

न्यूजीलैंड का इस वर्ल्ड कप में पावरप्ले में सबसे कम रन

बुमराह ने इस वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 9 मेडन ओवर फेंके हैं। इंग्लैंड के जोफ्रा आर्चर ने 8 और ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस ने 6 मेडन ओवर डाले हैं। न्यूजीलैंड ने पहले पावर प्ले में एक विकेट खोकर 27 रन बनाए। इस वर्ल्ड कप में किसी भी टीम का यह पावर प्ले के दौरान सबसे कम स्कोर है।

भारत ने पहली ही गेंद पर रिव्यू गंवाया

इससे पहले भारत ने पहली ही गेंद पर रिव्यू गंवा दिया। भुवनेश्वर कुमार ने गुप्टिल के खिलाफ एलबीडब्ल्यू की अपील की, लेकिन गेंद लेग स्टंप से बाहर जा रही थी। थर्ड अंपायर ने गुप्टिल को नॉटआउट करार दिया। शुरुआती दो ओवर में न्यूजीलैंड की टीम खाता भी नहीं खोल सकी थी।

स्कोरकार्ड : न्यूजीलैंड

बल्लेबाज रन गेंद 4s 6s
मार्टिन गुप्टिल कै. कोहली बो. बुमराह 1 14 0 0
हेनरी निकोलस बो. जडेजा 28 51 2 0
केन विलियम्सन कै. जडेजा बो. चहल 67 95 6 0
रॉस टेलर रनआउट (जडेजा) 74 90 3 1
जेम्स नीशम कै. कार्तिक बो. हार्दिक 12 18 1 0
कॉलिन डी ग्रैंडहोम कै. धोनी बो. भुवनेश्वर 16 10 2 0
टॉम लाथम कै. जडेजा बो. भुवनेश्वर 10 11 0 0
मिशेल सेंंटनर नाबाद 9 6 1 0
मैट हेनरी कै. कोहली बो. भुवनेश्वर 1 2 0 0
ट्रेंट बोल्ट नाबाद 3 3 0 0

रन : 239/8, ओवर : 50, एक्स्ट्रा : 18.

विकेट पतन : 1/1, 69/2, 134/3, 162/4, 200/5, 225/6, 225/7, 232/8.

गेंदबाजी : भुवनेश्वर कुमार: 10-1-43-3, जसप्रीत बुमराह: 10-1-39-1, हार्दिक पंड्या: 10-0-55-1, रवींद्र जडेजा: 10-0-34-1, युजवेंद्र चहल: 10-0-63-1.

Share.

About Author

Leave A Reply