About us

बीजेपी के विधायकों और सांसदों को भीड़ जुटाने का टारगेट दे दिया

0

प्रधानमंत्री मोदी की इंदौर सभा के बाद एक बार फिर बीजेपी के विधायकों और सांसदों को भीड़ जुटाने का टारगेट दे दिया गया है। इस बार उन्हें 14 जुलाई को उज्जैन में होने वाली अमित शाह की रैली में बीजेपी अब तक की सबसे ज्यादा भीड़ जुटाने की तैयारी कर रही है, जिससे विधानसभा चुनाव के पहले जनता भाजपा के साथ है, इसका सीधा संदेश दिया जा सके।

– 14 जुलाई को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह उज्जैन से भाजपा की जनआशीर्वाद यात्रा की शुरुआत करेंगे। वह यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे और प्रदेश मुखिया शिवराज सिंह चौहान समेत सारे मंत्री महाकाल की शरण में पहुंचकर विजयश्री का आशीर्वाद मांगेंगे। इसके बाद होने वाली सभा के लिए दो लाख से ज्यादा लोगों को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है।

इन जिलों के सांसदों-विधायकों को जिम्मेदारी
– दो लाख की भारी-भरकम भीड़ जुटाने का जिम्मा इंदौर, उज्जैन, देवास, रतलाम, मंदसौर समेत आसपास के जिलों के सांसदों, विधायकों को सौंपा गया है। पार्षदों, विधायकों और सांसदों को बताया गया है कि ये अब तक की सबसे बड़ी सभा होगी। जिसमें भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी आप सब की होगी।

– अबकी बार 200 पार के नारे के साथ भाजपा बूथ जीता, चुनाव जीता के सूत्र वाक्य पर फोकस कर रही है। सभी बैठकों में नेता इसी बात पर जोर दे रहे हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को पार्टी से जोड़ा जाए।

सीएम की 12 साल में तीसरी जन आशीर्वाद यात्रा
– मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साढ़े बारह साल के कार्यकाल में तीसरी जन आशीर्वाद यात्रा होगी। इससे पहले उन्होंने साल 2008 और वर्ष 2013 में भी विधानसभा चुनाव से पहले भगवान महाकालेश्वर की पूजा कर उज्जैन से ही अपनी जन आशीर्वाद यात्रा शुरू की थी और दोनों बार भाजपा को भारी बहुमत से विजय मिली थी।

यात्रा समापन पर शीर्ष नेतृत्व रहेगा मौजूद
– प्रेसिंडेट सिंह ने कहा कि 14 जुलाई से शुरू होने वाली इस यात्रा का क्रम 25 सितंबर तक चलेगा। 25 सितंबर को भोपाल में होने वाले विशाल कार्यकर्ता महाकुंभ के साथ इस यात्रा का समापन होगा और उस दिन भाजपा का शीर्ष नेतृत्व इसमें भागीदारी करेगा।

यात्रा से जुड़ी खास बातें
– साल 2013 की जन आशीर्वाद यात्रा में सीएम चौहान राज्य के 206 विधानसभा क्षेत्रों तक पहुंचे थे।
– इस बार यात्रा के दौरान सीएम चौहान प्रदेश की सभी 230 विधानसभा सीटों में पहुंचेंगे।
– जन आशीर्वाद यात्रा का प्रत्येक चरण दो दिन का होगा।
– प्रदेश के दो हिस्सों में बांटा गया है।
– पहले हिस्से में विंध्य, बुंदेलखंड और महाकौशल के विधानसभा क्षेत्र।
– दूसरे हिस्से में भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर-चंबल और मालवा-निमाड़ के विधानसभा क्षेत्र।
– चौहान सप्ताह में चार दिन जन आशीर्वाद यात्रा पर रहेंगे।
– दो दिन एक हिस्से में तो दो दिन प्रदेश के दूसरे हिस्से में यात्रा करेंगे।
– दोनों हिस्सों के लिए अलग-अलग रथ बनाए गए हैं।

भाजपा के कार्यक्रमों में कम हो रही भीड़ : कांग्रेस
– कांग्रेस का कहना है कि राहुल गांधी की मंदसौर रैली में ढाई लाख से ज्यादा की भीड़ उमड़ी थी। उन्होंने कहा कि बीजेपी के आयोजनों में भीड़ कम होती जा रही है, जबकि भीड़ जुटाने के लिए बीजेपी सारे संसाधन जुटाकर कार, बस तक कार्यकर्ताओं को दे रही है। इसके बावजूद फिर भी भीड़ जुटाने में भाजपा को कामयाबी नहीं मिल पा रही है।

– सारी कोशिशों के बावजूद पीएम मोदी की सभा में महज 30 से 35 हजार लोग ही जुट पाए थे। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सज्जन वर्मा का कहना है कि बीजेपी से जनता का मोह भंग हो गया है। बीजेपी के सारे नेता जुट जाएं तब भी राहुल गांधी से ज्यादा भीड़ नहीं जुटा पाएंगे।

Share.

About Author

Leave A Reply