About us

भोपाल शहर में में मंगलवार को सात घंटे में 116.6 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई

0

मध्यप्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश का दौर जारी है। भोपाल में मंगलवार सुबह से हो रही बारिश के चलते निचली बस्तियों में जलभराव हो गया है। हबीबगंज अंडरब्रिज के नीचे ट्रैफिक रोक दिया गया है। भोपाल शहर में में मंगलवार को सात घंटे में 116.6 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने 15 जिलों भोपाल, मंडला, छिंदवाड़ा, सिवनी, इंदौर, देवास, मंदसौर, उज्जैन, होशंगाबाद, जबलपुर, अनूपपुर, सीहोर, रायसेन, धार और शाजापुर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को सुबह 8.30 से शाम साढ़े पांच बजे तक भोपाल सिटी में 116.8 (पूरे जिले में 60.7), होशंगाबाद 74.0, जबलपुर 30.2, पचमढ़ी 23.0, सागर 16.0, दमोह 14.0, बैतूल 14.0 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई।

होशंगाबाद-भोपाल से बैतूल का सड़क संपर्क टूटा: बैतूल के शाहपुर, भौरा इलाके में 24 घंटे से जारी भारी बारिश के कारण बैतूल-भोपाल नेशनल हाइवे 69 पर सुखी नदी में बाढ़ से यातायात बंद हो गया है। भारी बारिश के चलते बैतूल जिले का होशंगाबाद और भोपाल से सड़क संपर्क टूट गया है।

– बारिश से उज्जैन में क्षिप्रा नदी उफान पर है। यहां नदी का पानी शहर की निचली बस्तियों में भर गया है। रायसेन-विदिशा में बेतबा नदी उफान पर है। सागर में भी नदी-नाले उफान पर है। शहर की कई बस्तियों में पानी भरा हुआ है। नरसिंहपुर में देर रात से शुरू हुई बारिश अब भी जारी है। नदी-नालों में उफान आ गया है। बारिश का सिलसिला अब भी जारी है।

सिवनी में डेम टूटा

सिवनी में भारी बारिश की वजह से निर्माणाधीन डेम को नुकसान पहुंचा है। आदिवासी बाहुल्य घंसौर विकासखंड के सरोरा गांव में इस डेम का निर्माण किया जा रहा है। तेज बारीश की वजह से डेम पर बनाई जा रही कच्ची दीवार सोमवार की रात को बह गई। दो मीटर ऊंची मिट्टी की दीवार के ढहने से दर्जनों किसानों के खेतों में पानी भर गया।

दो दिन होगी मूसलाधार बारिश

Share.

About Author

Leave A Reply