About us

राजगढ़ जिले में 3800 करोड़ के मोहनपुरा डैम का लोकार्पण करने पहुंचे प्रधानमंत्रीनरेंद्र मोदी

0
  • मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले में 3800 करोड़ के मोहनपुरा डैम का लोकार्पण करने पहुंचे प्रधानमंत्रीनरेंद्र मोदी ने 25 मिनट तक भाषण दिया। इस दाैरान उन्होंने 2 बार कांग्रेस का नाम लिया और 4 बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की तारीफ की। मोदी का भाषण शिवराज सरकार के 13 साल के रिपोर्ट कार्ड पर ही केंद्रित रहा है। प्रधानमंत्री ने सभा स्थल में प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। मंच पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उनका स्वागत किया। शिवराज सिंह ने उन्हें मालवा की पगड़ी पहनाकर स्वागत किया।

    प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत जनसंघ के संस्थापक सदस्य डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी को याद करते हुए की। उन्होंने कहा कि 23 जून डॉ. श्यामाप्रसाद जी की पुण्यतिथि है। मुखर्जी देश के पहले उद्योग मंत्री थे, जिन्होंने विद्या-वित्त-विकास का विजन दिया। इसे हमने आगे बढ़ाया है। उन्होंने जो पहली उद्धोग नीति बनाई थी उसका ही अगर सही तरीके से पालन हो जाता तो आज देश की तस्वीर कुछ और होती। मोदी ने कहा कि विपक्ष के नेता आज निराशा के चलते जमीनी सच्चाई से कोसों दूर हैं। ये हमारे देश का दुर्भाग्य रहा है कि एक परिवार का महिमामंडन करने के लिए बाकी महापुरुषों के योगदान को भुला दिया गया। कुछ ऐसा ही डॉ. श्यामा प्रसाद मृखर्जी के साथ किया गया।

    मध्य प्रदेश को बीमारू राज्य से बाहर किया

    मोदी ने कहा कि शिवराज सरकार बेहतर काम कर रही है। केंद्र के चार साल औऱ प्रदेश सरकार के 15 साल के कार्यकाल के दौरान मध्य प्रदेश बीमारू राज्य की श्रेणी से बाहर आ गया है। राजगढ़ जिले की आज के बाद से पहचान बदल जाएगी। यहां स्वास्थ्य, शिक्षा और पोषण पर तेजी से काम हो रहा है। डैम बन जाने से करीब 725 से ज्यादा गांवों को सिंचाई के साथ ही करीब 400 गांवों को पेयजल उपलब्ध होगा।

    एक-एक इंच जमीन की सिंचाई करेंगे
    कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मोहनपुरा और पूरे क्षेत्र की एक-एक इंच जमीन को सिंचित कर देंगे। उन्होंने कहा, लोग कहते हैं किसान नाराज हैं, मैं आपसे पूछता हूं कि क्या आप नाराज हैं… (लोगों ने कहा, बिलकुल नहीं)। हमने किसानों को सशक्त करने का काम किया। कांग्रेस के जमाने में खाद नहीं मिलती थी। हमने बिना ब्याज का कर्ज दिया। हमने किसानों की समृद्धि के लिए अलग-अलग योजनाएं लागू कीं।

    40 लाख हेक्टेयर जमीन सिंचित की

    प्रदेश के सिंचाई मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, राजा रजवाड़े से लेकर पिछली सरकारों तक केवल 7 लाख हेक्टेयर जमीन ही सिंचित कर पाए, लेकिन मुझे ये कहते हुए प्रसन्नता है कि आज हम 40 लाख हेक्टेयर जमीन की सिंचाई कर रहे हैं।

    मोहनपुरा सिंचाई परियोजना पर एक नजर–

     – प्रोजेक्ट की लागत : 3866.34 करोड़
    – दिसंबर 2014 में शुरू हुआ था डैम का निर्माण
    – फरवरी 2018 में निर्माणावधि से पहले कर दिया पूरा
    – बांध की भराव क्षमता 616.27 मिलियन घनमीटर
    – 1,34,300 हेक्टेयर क्षेत्र में दाबयुक्त पाइप सिंचाई पद्धति से खेती
    – 92,500 हेक्टेयर रायजिंगमैन एवं पंप हाउस का कार्यक्षेत्र पूर्ण
    – 1600 हेक्टेयर सिंचाई के लिए निर्माण एजेंसी का कार्य प्रगति पर
    – उद्योगों और पेयजल के लिए 5-5 मिलियन घन मीटर पानी आरक्षित
    – बांध की पूर्ण भराव क्षमता पर डूब क्षेत्र 7056.718 हेक्टेयर भूमि
    – 17 गेट वाला यह डैम जिले का सबसे बड़ा और भोपाल संभाग में दूसरे स्थान पर होगा
Share.

About Author

Leave A Reply