About us

राहुल गांधी के मंदसौर दौरे के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के बयान पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने तीखी प्रतिक्रिया दी

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मंदसौर दौरे के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के बयान पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। कमलनाथ ने आज दो ट्वीट किए पहले में उन्होंने राहुल की सभा पर मुख्यमंत्री को आड़े हाथों लिया है तोदूसरे ट्वीट में उन्होंने भाजपा सरकार के कार्यकाल में किसानों द्वारा आत्महत्या के आंकड़े जारी किए हैं।

भाजपा शासन में 15000 किसानों ने की आत्महत्या

– कमलनाथ ने ट्वीट में कहा कि बीते 15 साल में मध्य प्रदेश में 15.000 किसान आत्महत्या कर चुके हैं। इस मामले में देश में मध्य प्रदेश का नंबर तीसरा है।

– कांग्रेस आज से एक नया अभियान भी शुरू कर रही है। जिसका नाम उसने पोल खोल अभियान रखा है। पार्टी के नेता नेता नरेन्द्र सलूजा का कहना है कि भाजपा सरकार के कामों की हकीकत आंकड़े सहित हर दिन जारी की जाएगी।

– इसकी पहली कड़ी में आज भाजपा सरकार के कार्यकाल में किसानों द्वारा की गई आत्महत्या के आंकड़े जारी किए गए हैं।

कमलनाथ का पहला ट्वीट

‘गुरुवार को करीब साढ़े ग्यारह बजे कमलनाथ ट्वीट कर कहा कि शिवराजजी ना हम घड़ियाली आंसू बहाने और ना वोट की फसल काटने मंदसौर गये थे… हम तो वहां किसानो के आंसू पोछनें गए, जो आपकी सरकार ने दिये है और आपके द्वारा पिछले 14 वर्ष से बोयी जा रही झूठ की फ़सल काटने गये थे…’

कमलनाथ का दूसरा ट्वीट

– किसानों की आत्महत्या के आंकड़े को लेकर भ्रम फैलाने वाले जान ले कि पिछले वर्ष 896 किसानो ने आत्महत्या की, MP किसानो की आत्महत्या के मामले में देश में नं. 3 पर, वही पिछले 5 वर्षों में 21% की वृद्धि के साथ करीब 5500किसानो ने व 15 वर्षों में 16000 किसानो ने आत्महत्याएँ की…’

क्या कहा था मुख्यमंत्री ने

– दरअसल, कल मंदसौर में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के कर्ज माफी के ऐलान और सभा के तुरंत बाद पलटवार करने के लिए मुख्यमंत्री समेत भाजपा के बड़े नेता मैदान में आ गए थे ।

– टीकमगढ़ और राजगढ़ में सभा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुटकी लेते हुए कहा था कि राहुल बाबा मंदसौर में सिर्फ घड़ियाली आंसू बहाने गए हैं। पिछले 60 साल तक कभी किसानों की याद नहीं आई।

– कांग्रेस शांत मप्र में हिंसा फैलाने का काम कर रही है। किसानों को लाठी देने वालों ने प्याज-लहसुन खरीदी नहीं, मुझे चैलेंज दे रहे हैं। मैं राहुल गांधी और दिग्विजयसिंह से पूछता हूं कि आप किसानों के नाम पर क्यों राजनीति करना चाहते हैं?

Share.

About Author

Leave A Reply