About us

विमान को रिहायशी इलाके से दूर गिराने की कोशिश में स्क्वार्डन लीडर पायलट मीट कुमार शहीद हो गए

0

 हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में बुधवार वायुसेना का मिग-21 क्रैश हो गया। विमान को रिहायशी इलाके से दूर गिराने की कोशिश में स्क्वार्डन लीडर पायलट मीट कुमार शहीद हो गए। विमान ने दोपहर 12.20 बजे पंजाब के पठानकोट एयरबेस से उड़ान भरी थी। लेकिन 1.07 बजे बेस से इसका संपर्क टूट गया और 1.20 बजे कांगड़ा के पट्टा जटियां में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

स्थानीय लोगों ने बताया कि वायु सेना का विमान काफी देर तक आसमान में जलता हुआ दिखा। पायलट इसे रिहायशी इलाके से दूर खेतों की तरफ ले गया। विमान का मलबा दो किलोमीटर के दायरे में बिखरा मिला।
मुबई में 28 जून को हुआ था इसी तरह का हादसा: मुंबई के घाटकोपर इलाके में 28 जून को चार्टर्ड प्लेन क्रैश हो गया था। पायलट ने हेलीकॉप्टर को कंस्ट्रक्शन साइट पर गिरा दिया था। विमान को रिहायशी बिल्डिंग में टकराने से बचाने के प्रयास में दोनों पायलट समेत 5 लोगों की मौत हो गई थी।

जून में हुए थे 2 और बड़े हादसे: जून में वायुसेना के दो विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गए थे। 5 जून को गुजरात के कच्छ जिले जगुआर फाइटर विमान क्रैश हो गया था। इसमें पायलट संजय चौहान शहीद हो गए थे। वहीं, नाशिक में 27 जून को एक सुखोई विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इसमें दोनों पायलटों ने खुद को सुरक्षित बाहर निकाल लिया था।

Share.

About Author

Leave A Reply