About us

सरकार की ओर से भी नए साल के कुछ तोहफे मिलने जा रहे हैं

0

2017 खत्‍म हो चुका है। 2018 शुरू हो गया है। ऐसे में आपको सरकार की ओर से भी नए साल के कुछ तोहफे मिलने जा रहे हैं तो कुछ झटके भी। दरअसल सरकार ने देश में 1 जनवरी 2018 से कुछ नए नियम लागू करने का फैसला किया है, जिससे आपको फायदा और नुकसान दोनों मिलने वाला है। सरकार के इन फैसलों को आप पर सीधा असर होने जा रहा है। आइए जानते हैं कि नए साल की शुरुआत पर सरकार आपको क्‍या नए तोहफे और झटके देने जा रही है।  देने जा रही है और इनसे आपको कैसे फायदा होगा-

घर बैठे मोबाइल सिम की आधार से लिंकिंग

 1 जनवरी, 2018 से आपको घर बैठे अपनी मोबाइल सिम आधार से लिंक कराने की सुविधा मिलने वाली है। वैसे तो यह सुविधा 1 दिसंबर से शुरू होने वाली थी लेकिन टेलीकॉम कंपनियों की तैयारी पूरी न होने के चलते इसे 1 महीना आगे बढ़ा दिया गया। अब आप 1 जनवरी से ओटीपी व अन्‍य जरिए से सिम को घर बैठे आधार से लिंक कर सकेंगे।

एसबीआई ने घाटाया रेट 

स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) से यदि आपने बेस रेट पर लोन लिया है, तो आपके लिए राहत की खबर है। एसबीआई ने बेस रेट 8.95 फीसदी से घटाकर 8.65 फीसदी कर दिया है। इस तरह, बैंक ने बेस रेट में 0.30 फीसदी की कटौती की है। नई दरें आज 1  जनवरी 2018 से लागू हो गईं। बेस रेट में कटौती का फायदा बैंक के पुराने होम, ऑटो या पर्सनल लोन कस्‍टमर्स को होगा, क्‍योंकि 1 अप्रैल 2016 से सभी बैंक एमसीएलआर (मार्जिनल कॉस्‍ट लेंडिंग रेट) पर लोन दे रहे हैं। बता दें, ब्याज दर तय करने को लेकर रिजर्व बैंक ने MCLR की शुरुआत की। एसबीआई द्वारा बेस रेट घटाने से केवल उन्हीं पुराने ग्राहकों को फायदा होगा जिन्होंने बेस रेट पर लोन लिया हुआ है।

स्‍मॉल सेविंग पर भी कम ब्‍याज दर 
मोदी सरकार ने पीपीएफ के अलावा किसान विकास पत्र और सुकन्‍या समृद्धि स्‍कीम की भी दरों में कमी कर दी है। अगर आप ने इन दोनों तीनों में से किसी भी स्‍कीम में निवेश किया है तो आपको ब्‍याज दर कम मिलेगी। नए नियम के तहत  किसान विकास पत्र पर 7.5% की बजाय 7.3% और सुकन्‍या समृद्धि स्‍कीम में 8.3% की बजाय 8.1% की दर से ब्‍याज मिलेगा।
पीपीएफ पर मिलेगा कम ब्‍याज  
केंद्र सरकार ने हाल में पब्लिक प्रॉविडेंट फंड यानी पीपीएफ पर ब्‍याज दर 7.8 फीसदी से घटा कर 7.6 फीसदी कर दी है। पीपीएफ पर इंटरेस्‍ट रेट में कटौती के बाद इम्‍लाइज प्रॉविडेंट फंड यानी ईपीएफ में भी कटौती की आशंका है। नई दरें 1 मार्च को लागू होंगी।
इन बैंकों के चेक होंगे अमान्य
1 जनवरी से Sbi में विलय होने वाले बैंकों के चेकबुक अमान्य हो जाएंगे। इन बैंकों में- स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर और भारतीय महिला बैंक शामिल हैं। अप्रैल  2017 में इनका विलय एसबीआई में हुआ था।
एक जनवरी से महंगी होंगी कारें 
एक जनवरी से ज्‍यादारत कंपनियों की कारें महंगी हो रही हैं। कंपनियों का कहना है कि उनकी इनपुट कॉस्‍ट बढ़ गई है। ज्‍यादातर कंपनियों ने पहले ही कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा कर रखी है। जो कंपनियां अपकी कारों के दम बढ़ा रही हैं उसमें टाटा, टोयोटा, मारूति और ह्युंदई के नाम शामिल हैं। लग्जरी कार कंपनी बीएमडब्ल्यू भी जनवरी से अपने सभी कारों पर 5 फीसदी तक बढ़ोतरी करेगी।
Share.

About Author

Leave A Reply