About us

सोमवार को संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गई

0

राजस्थान के एक थिएटर में सोमवार को संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गई है। जोधपुर में फिल्म से जुड़े एक मामले की सुनवाई कर रहे हाईकोर्ट के जज संदीप मेहता को पद्मावत दिखाई जाएगी। इसके लिए भंसाली की ओर से खास इंतजाम किए गए हैं। पुलिस ने भी जस्टिस मेहता को सुरक्षा मुहैया कराने का भरोसा दिया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट और सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिलने के बाद भी फिल्म राजस्थान समेत 4 राज्यों में रिलीज नहीं हो पाई थी। पद्मावत के विरोध में कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे।

पद्मावत से धार्मिक भावनाएं आहत होने का आरोप

– पिछले साल पद्मावत का प्रोमो देखने के बाद नागौर जिले में वीरेंद्र सिंह नाम के शख्स ने डायरेक्टर भंसाली, फिल्म के कलाकारों (रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण) के खिलाफ धार्मिक और सामाजिक भावनाएं आहत करने का केस दर्ज कराया था।
– इसके बाद भंसाली, दीपिका और रणवीर सिंह की ओर से एफआईआर रद्द करने के लिए राजस्थान हाईकोर्ट में अपील की गई है।

 जज बोले- फिल्म देखे बगैर कैसे फैसला दें?

– शुक्रवार को सुनवाई के दौरान जस्टिस मेहता ने कहा कि फिल्म देखे बगैर कोर्ट तय नहीं कर सकता है कि इससे धार्मिक और सामाजिक भावनाएं आहत हो रही हैं। इसके बात फिल्म डायरेक्टर को पद्मावत की स्पेशल स्क्रीनिंग रखने की बात कही।

– भंसाली की ओर से 5 फरवरी को शहर के एक थिएटर में स्क्रीनिंग की सहमति मिलने पर हाईकोर्ट ने पुलिस कमिश्नर को तलब किया। थिएटर के आसपास सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता करने के निर्देश दिए।

 राजस्थान समेत 4 राज्यों में नहीं दिखाई जा रही है फिल्म

– करणी सेना और राजपूत संगठनों के विरोध के बीच पद्मावत को सुप्रीम कोर्ट और सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिली। लेकिन विरोध और हिंसक प्रदर्शनों के चलते इसे राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश और हरियाणा में थिएटर मालिकों ने इसे ना दिखाने का फैसला लिया था।

Share.

About Author

Leave A Reply