About us

11 वर्षीय छात्र ने मोबाइल फोन खरीदने की जिद में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली

0

अशोका गार्डन इलाके में 8वीं के 11 वर्षीय छात्र ने मोबाइल फोन खरीदने की जिद में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वह तीन दिन से पिता से मोबाइल फोन के लिए रुपए मांग रहा था। पिता ने उसे कपड़े खरीदने के लिए डेढ़ हजार रुपए दिए थे। वह कुछ दिन पहले ही सिवनी से घर लौटा था।

– न्यू अशोका गार्डन निवासी मुकीम अंसारी का बड़ा बेटा मुशीर सिवनी में उनके भाई के यहां रहकर पढ़ाई और नमाज पढ़ाना सिखाता है। मुकीम ने अपने 11 साल के छोटे बेटे मुजामिल को भी उसके पास पढ़ाई के लिए भेज दिया था। वह वहां मदरसे में कक्षा आठवीं में था। कुछ दिन पहले ही वह घर आया था। मुकीम की दो बड़ी बेटियां भी हैं।

– उन्होंने पुलिस को बताया कि मुजामिल तीन से मोबाइल फोन दिलाने की जिद कर रहा था। मैंने उसकी उम्र को देखते हुए उसे समझाया, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं था। मैंने उसे मनाने के लिए कपड़े खरीदने के लिए एक हजार रुपए दे दिए, लेकिन वह नहीं माना। मैंने उसे 500 रुपए और दे दिए।

नमाज में जाने से मना किया

– शुक्रवार को सुबह जुमे की नमाज में जाने से मना करते हुए सोने देने को कहा। लौटकर आए तो वह फंदे पर लटका था। उसने पांच फीट ऊंची अलमारी पर चढ़कर कपड़े से पंखे पर फंदा बनाकर फांसी लगाई थी। परिजन फंदा खोलकर उसे अस्पताल ले गए, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

हमने तो उसकी भलाई के लिए ऐसा किया
– उसे बड़े बेटे के पास अच्छी तालीम के लिए भेजा था। आजकल मोबाइल फोन के कारण बच्चे बिगड़ रहे हैं। हम तो बस उसे इससे दूर रखना चाहते थे। हमें क्या पता था कि वह ऐसा कर लेगा। वह बहुत जिद्दी था। हमने उसे कभी कोई कमी नहीं होने दी। वह जो कहता था हम करते थे, लेकिन अब कुछ कहने के लिए नहीं नहीं बचा। (जैसाकि मुकीम ने अशोका गार्डन पुलिस को बताया)

हाथ में मिले 200 से अधिक ब्लेड से कटे के निशान
– मामले की विवेचना कर रहे एएसआई कमल सिंह के अनुसार पूछताछ में सामने आया कि मुजामिल काफी जिद्दी स्वभाव का था। वह छोटी-छोटी बात पर जिद पकड़ लेता था। उसके हाथ पर भी 200 से अधिक ब्लेड से काटे जाने के निशान मिले हैं। परिजनाें का भी कहना था कि वह बहुत जिद करता था।

Share.

About Author

Leave A Reply