About us

2 सितंबर से गणेश उत्सव शुरू हो रहा है

0

मिट्टी के गणेश स्थापित करने का अभियान चलाया जा रहा है। प्रदेश में मिट्टी के गणेश बनाने की कार्यशालाएं आयोजित की जा रही हैं। इन कार्यशालाओं में हजारों लोग मिट्टी के गणेश बनाना सीख कर अपने घरों में इन्हें स्थापित कर घर में ही विसर्जन का संकल्प ले चुके हैं। अरेरा कॉलोनी स्थित एप्को (पर्यावरण नियोजन एवं समन्वय संगठन) द्वारा आयोजित कार्यशाला में करीब दो हजार बच्चे और महिलाओं ने इस साल मिट्टी के गणेश बनाने का प्रशिक्षण लिया।  एप्को के आर्कीटेक्चर कमलेश कुमार वर्मा ने मिट्टी के गणेश बनाने का बेहद आसान तरीका लोगों को बताया है। उन्होने कहा कि जो लोग कार्यशाला में नहीं आ सकते वे लोग घर ही मिट्टी के गणेश आसानी से बना सकते हैं। उन्होंने बताया कि गणेश चतुर्थी पर स्नान के बाद साफ मिट्टी लेकर आएं। इसके बाद पानी डालकर उस मिट्टी को गुंथ लें। फिर वीडियो में बताए गए तरीके के अनुसार मिट्टी से गणेशजी की मूर्ति बनाएं। इसके बाद उस पर सिंदूर लगा सकते हैं। शुद्ध घी और सिंदूर मिलाकर श्रृंगार कर सकते हैं। इसके बाद मूर्ति को घर की उत्तर-पूर्व दिशा यानी ईशान कोण में स्थापित करें। धूप-दीप जलाएं। दूर्वा, फल-फूल अर्पित करें। लड्डुओं का भोग लगाएं। कर्पूर जलाकर आरती करें। गणेश उत्सव में रोज सुबह-शाम पूजा करें। अनंत चतुर्दशी पर इस मूर्ति का विसर्जन करें।

Share.

About Author

Leave A Reply