About us

60 लाख फर्जी वोटर होने संबंधी कांग्रेस की शिकायत को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया

0

प्रदेश में 60 लाख फर्जी वोटर होने संबंधी कांग्रेस की शिकायत को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है। वहीं, कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने चुनाव आयोग की जांच पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने मतदाता सूचियों की फिजिकल वेरिफिकेशन की मांग की है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग की टीमें गठित कर घर-घर जाकर मतदाताओं का वेरिफिकेशन करें। कागजी कार्रवाई से कुछ नहीं होगा, जिस तरह से वोटर लिस्ट में गड़बड़ी सामने आई है, उसकी गहराई से जांच की जाए।

– वहीं, कांग्रेस मीडिया प्रभारी मानक अग्रवाल का कहना है कि हम चुनाव आयोग की जांच को सही नहीं मानते हैं। इस मामले में हम कोर्ट जाएंगे। उन्होंने ये भी कहा कि चुनाव आयोग को वोटर लिस्ट की पूरी तरह से जांच करनी चाहिए।

– बता दें कि चुनाव आयोग की जांच में सिर्फ 8 फर्जी वोटर मिले। नरेला में 1 और भोजपुर में 7। इन्हें वोटर लिस्ट से हटाने की प्रक्रिया जारी है। केंद्रीय चुनाव आयोग ने कांग्रेस के आरोपों की जांच पूरी करने के बाद शुक्रवार देर रात अपनी रिपोर्ट जारी कर दी। आयोग ने यह रिपोर्ट दिल्ली स्थित अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को भी भेज दी है।

– बता दें कि 3 जून को कांग्रेस ने प्रदेश की 101 विधानसभा सीटों पर 60 लाख वोटर फर्जी होने की शिकायत दिल्ली में चुनाव आयोग से की थी।

चुनाव आयोग से माफी मांगे कांग्रेस

– इधर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि हमने पहले से कहा था कि कांग्रेस के आरोपों में कोई दम नहीं है। चुनाव आयोग की जांच में 60 लाख मतदाता तो क्या 60 मतदाता भी फर्जी नहीं पाए गए। कांग्रेस को आयोग से माफी मांगनी चाहिए।

चुनाव आयोग ने शिकायत को गंभीरता से लेकर की जांच
– आयोग ने भी आंकड़ा बड़ा होने के कारण शिकायत को गंभीरता से लेते हुए चार विधानसभा क्षेत्रों भोपाल में नरेला, रायसेन में भोजपुर, होशंगाबाद तथा सिवनी मालवा में वोटर लिस्ट की जांच के लिए टीमें गठित कर दी थीं। हर सीट पर दो सदस्यीय जांच दल ने बारीकी से पड़ताल की और चार दिन बाद गुरुवार को अपनी रिपोर्ट चुनाव आयोग को दी।

नरेला में एक और भोजपुर में 7 वोटर निकले फर्जी
– सिवनी मालवा:17 पोलिंग स्टेशन पर गड़बड़ी की 2442 शिकायत थीं, 2397 में गड़बड़ी नहीं मिली। बाकी 45 को सुधारे जाने की प्रक्रिया जारी है। लिस्ट में 439 फोटो में गड़बड़ी थी, जिसमें 145 सही की जा चुकी हैं।
– नरेला: 22,252 फर्जी वोटर की शिकायत थी। इनमें से 17684 में कोई गड़बड़ी नहीं मिली। बाकी 4568 की रेंडमली 154 की जांच की, जिसमें से 153 सही पाई गईं। सिर्फ एक में गड़बड़ी निकली। फोटो में गड़बड़ी के 40 मामले पाए गए, जिन्हें सही किए जाने की कार्रवाई जारी है।
– होशंगाबाद: 552 फर्जी वोटर की शिकायत थी। कोई भी गड़बड़ी नहीं मिली। फोटो की मल्टीपल एंट्री के 40 मामले मिले।
– भोजपुर: 36 मामलों की जांच हुई। इनमें 29 सही मिलीं। सिर्फ 7 में गड़बड़ी।

Share.

About Author

Leave A Reply