व्यक्तिगत रूप से चुनाव नहीं लड़ना चाहता : शिवराज

0

संसदीय सीट इंदौर से चुनाव में उतरने से मना कर चुकीं सुमित्रा महाजन (ताई)  शनिवार को दिल्ली पहुंच गईं। वे यहां रविवार को बाबा भीमराव आंबेडकर जयंती के कार्यक्रम में शामिल होंगी। महाजन इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अलावा राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल और प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे से मिले सकती हैं।

उन्होंने इन सभी से मिलने का समय मांगा है। सूत्रों के मुताबिक ताई इंदौर सीट से अपनी तरफ से दो नाम बड़े नेताओं को दे सकती हैं।  चुनाव लड़ने से मना करने के बाद महाजन पहली बार दिल्ली पहुंची हैं। खुद प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर उन्हें जन्मदिन की बधाई दी थी, इसलिए माना जा रहा है कि महाजन उनसे मुलाकात कर सकती हैं। सूत्रों के अनुसार महाजन का अब भी प्रयास है कि टिकट उन्हें ही मिले। शनिवार को महाजन ने कई नेताओं से बात की। उन्हें उम्मीद है कि केंद्रीय नेतृत्व उनकी बात या पसंद को तवज्जो देगा।

कैलाश बोले- बंगाल की जिम्मेदारी अहम, चुनाव लड़ने से मना किया है, फिर भी पार्टी जो आदेश दे : इंदौर से लोकसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने पहली बार सीधी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इंदौर में मीडिया से शनिवार को कहा कि मैंने लोकसभा चुनाव लड़ाने के लिए पार्टी को मना किया है। अभी पश्चिम बंगाल की चुनौती मेरे लिए सबसे बड़ी है। इंदौर की जनता तो मुझे बहुत प्यार करती है। हालांकि उन्होंने जोड़ा कि अगर पार्टी फिर भी करेगी तो निश्चित लड़ूंगा।

विजयवर्गीय ने इंदौर में टिकट को लेकर चल रहे विवाद और ताई की नाराजगी पर कहा कि पार्टी ने 75 वर्ष की उम्र से ज्यादा के दावेदारों को टिकट नहीं देने का फैसला लिया है। उसी का सम्मान करते हुए ताई ने पत्र लिखा। वे हम सबकी नेता हैं। इंदौर में टिकट को लेकर कोई विवाद नहीं है, यह अफवाह है। इंदौर से जो भी लड़ेगा, वो आसानी से जीत जाएगा।

व्यक्तिगत रूप से चुनाव नहीं लड़ना चाहता : शिवराज

मैं व्यक्तिगत से रूप से चुनाव नहीं लड़ना चाहता। यह अनिच्छा जाहिर भी कर चुका हूं, लेकिन आगे पार्टी जो आदेश करेगी वही करूंगा। भोपाल के टिकट की घोषणा में एक-दो दिन में हो जाएगी। ई-टेंडरिंग मामले की जांच का स्वागत है, पर यह जांच मेरे मुख्यमंत्री रहते ही शुरू हुई है। (भोपाल में मीडिया से चर्चा में)

गुना से दावेदारी कर रहे यादव का विरोध, सामूहिक इस्तीफा देने की धमकी : गुना संसदीय सीट के कई नाराज भाजपा कार्यकर्ता शनिवार को भोपाल पहुंचे और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा से मिले। उन्होंने गुना से संभावित उम्मीदवार केपी यादव की दावेदारी को लेकर विरोध किया और कहा कि यदि उन्हें टिकट दिया तो क्षेत्र के सैकड़ों कार्यकर्ता सामूहिक इस्तीफा दे देंगे।

Share.

About Author

Leave A Reply