About us

आखिरी पंक्ति तक के व्यक्ति को योजना का फायदा मिले, वह काम कर डालो- प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा

0

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150 वें जन्म वर्ष पर भवानी प्रसाद मिश्र ऑडिटोरियम में आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह में डेढ़ घंटे की देरी से आए प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा ने भाषण यह कहते हुए शुरू किया कि यहां नेताओं की लंबी लिस्ट है। फिर वे उनके नाम पढ़ने लगे। कुछ नाम वे भूल भी गए। उन्होंने कहा कि आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम नपा में भी चलेगा। ध्यान रखें यह सरकार का आयोजन है। इसमें दलगत राजनीति न हो। सब जनप्रतिनिधि हैं, चाहे किसी भी पार्टी के हों। अफसरों को सबकी बात सुननी पड़ेगी चाहे नपाध्यक्ष हों या विधायक। यही मेरा कहना है। प्रभारी मंत्री बोले, आखिरी पंक्ति तक के व्यक्ति को योजना का फायदा मिले, वह काम कर डालो। किसी को सरकारी दफ्तर के चक्कर न लगाना पड़े। बापू के आचरण का उदाहरण देते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि पहले खुद को अच्छा बनना होगा फिर दूसरों के दोष गिनाएं। प्रभारी मंत्री के आठ माह से इटारसी नहीं आने से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिला प्रशासन का गांधी जयंती आयोजन इटारसी में करने और मंत्री शर्मा के आने पर उनका खुलकर स्वागत किया। प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि इटारसी की धरती पर 86 साल पहले गांधीजी ने कदम रखा इसलिए यह पवित्र धरती है। उस समय बापू ने यह लिखा था कि यहां की धर्मशाला में स्वच्छता से रहने वाले दलितों को भी आश्रय मिलता है। शर्मा बोले, इटारसी पूरे हिंदूस्तान को जोड़ने वाला शहर है। नर्मदा अंचल का यह क्षेत्र सेनानियाें की कर्मभूमि है। उन्हाेंने मंच से कलेक्टर व कमिश्नर से कहा कि जितने भी महात्मा गांधी के यादगार स्थल हैं उनकी सूची बनाकर संरक्षित करने का काम शुरू कीजिए। हम मुख्यमंत्री कमलनाथ को इन स्थलों पर लेकर आएंगे। मंत्री शर्मा ने होशंगाबाद के नर्मदा घाट पर स्वच्छता की पहल के लिए दैनिक भास्कर की सराहना मंच से की और इसे प्रेरक बताया।
इनके पहले जिले के तीन पूर्व विधायक विजय दुबे काकू भाई, सरताज सिंह और अंबिका शुक्ल बोले। काकू भाई ने स्वतंत्रता आंदोलन में जिले के योगदान का जिक्र किया। सरताज सिंह बोले, गांधी जी प्रखर वक्ता नहीं थे पर उनकी एक आवाज पर जनता इसलिए आ जाती थी कि उनकी कथनी और करनी में फर्क नहीं था। आज के नेताओं को इनसे सीख लेनी चाहिए। अंबिका शुक्ल ने कहा कि मंत्री जी को शहर की समस्याएं बताने भी आज काफी लोग आए। मैं चाहता हूं कि वे इस शहर में आते रहें। और यहां मेडिकल कॉलेज खुलवाएं। नगरपालिका अध्यक्ष सुधा अग्रवाल का भाषण भी मंच से हुआ।

Share.

About Author

Leave A Reply